• search
बिहार न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

बिहारः जब धरना स्थल से सैकडों लोगों के बीच तेजस्वी यादव ने DM को किया फोन फिर...

|

पटना। बिहार की राजधानी पटना के इको पार्क में चल रहे शिक्षक अभ्यर्थियों के आंदोलन में अचानक से बुधवार की रात को तेजस्वी यादव भी पहुंच गए। तेजस्वी यादव के पहुंचते ही वहां जिंदाबाद के नारे लगने लगे। इसके बाद तेजस्वी यादव ने पहले अभ्यर्थियों की समस्या सुनी फिर एक-एक कर डीजीपी, मुख्य सचिव और जिलाधिकारी को फोन लगा दिया। इन अधिकारियों से बात कर तेजस्वी यादव ने शिक्षक अभ्यर्थियों को गर्दनीबाग धरनास्थल पर धरना देने की इजाजत की मांग की।

    बिहारः जब धरना स्थल से सैकडों लोगों के बीच तेजस्वी यादव ने DM को किया फोन

    Tejashwi yadav reached eco park and talk to dm for permission of gardanibagh protest

    इस दौरान जब तक मांग पूरी नहीं हुई वह भी शिक्षक अभ्यर्थियों के साथ इको पार्क में मौजूद रहे। हालांकि जैसे ही जिला प्रशासन ने गर्दनीबाग धरना स्थल पर धरना देने की अनुमति दी तो तेजस्वी यादव भी इको पार्क से गर्दनीबाग के लिए पैदल ही निकल गए। गर्दनीबाग पहुंच कर वो शिक्षक अभ्यर्थियों के साथ बैठे रहे। इस दौरान उन्होंने नीतीश सरकार पर निशाना साधा और थोड़ी देर में वहां से चले गए।

    डीजीपी और अन्य लोगों से बात कर जब तेजस्वी यादव ने डीएम को फोन किया तो वह समझ नहीं पाए कि उनकी बात किससे हो रही है, जिसके चलते जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह ने फोन पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को हड़का दिया। फिर सैकड़ों लोगों के बीच खड़े तेजस्वी यादव को जोर देकर बताना पड़ा कि वे कौन बोल रहे हैं। उसके बाद हडबड़ाये डीएम को अहसास हुआ कि उन्होंने गलत तेवर में बात कर दिया।

    शिक्षक नियोजन पर हाईवोल्टेज ड्रामा

    दरअसल शिक्षक बहाली में देरी के खिलाफ राज्य भर के अभ्यर्थी आंदोलन पर हैं। उन्होंने पटना के गर्दनीबाग में धरना देना शुरू किया था। लेकिन मंगलवार की शाम पुलिस ने उन्हें वहां से खदेड़ दिया। बुधवार को अभ्यर्थी फिर से गर्दनीबाग धरनास्थल पर पहुंचे तो एक बार फिर पुलिस ने उन्हें खदेड़ दिया। पुलिस से बचकर भागे सैकड़ो शिक्षक अभ्यर्थी पटना के ईको पार्क पहुंच गये। इसके बाद उन्होंने अपने साथ हुए वाकये की खबर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को दी।

    ईको पार्क पहुंच गये तेजस्वी

    शिक्षक अभ्यर्थियों के ईको पार्क में पहुंचने की खबर मिलने के बाद तेजस्वी यादव वहां पहुंचे। उन्होंने आंदोलनकारियों को संबोधित करना शुरू कर दिया। तेजस्वी ने राज्य सरकार पर तानाशाही का आरोप लगाते हुए कहा कि लोकतंत्र में शांतिपूर्ण प्रदर्शन का अधिकार मिला है लेकिन नीतीश सरकार लाठी-गोली चलवा रही है।

    तेजस्वी ने कहा कि शिक्षक अभ्यर्थियों और नियोजित शिक्षकों को इसका दंड दिया जा रहा है कि उन लोगों ने आरजेडी को वोट दिया था। शिक्षक अभ्यर्थियों के बीच से ही तेजस्वी यादव ने सूबे के मुख्य सचिव दीपक कुमार को फोन लगाया। लाउडस्पीकर ऑन था और तेजस्वी मुख्य सचिव से बात कर रहे थे।

    तेजस्वी ने कहा कि लोकतांत्रिक तरीके से प्रदर्शन करना किसी का भी अधिकार है। लेकिन शिक्षक अभ्यर्थियों पर लाठी-गोली चलायी जा रही है। नेता प्रतिपक्ष ने मुख्य सचिव को कहा कि या तो आंदोलनकारियों को शांतिपूर्ण तरीके से धरना देने की इजाजत दी जाये वर्ना वे भी ईको पार्क में ही धरना पर बैठ जायेंगे।

    बिहारः बजट सत्र शुरू होने से पहले तेजस्वी यादव पर जदयू का तंज, कहा- सत्र की गरिमा खातिर कुछ पढ़ लीजिएगा

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Tejashwi yadav reached eco park and talk to dm for permission of gardanibagh protest
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X