• search
बिहार न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

पूर्णियाः जब सरकार ने नहीं सुनी बात तो लोगों ने श्रमदान कर खुद बनाई सड़क

|
Google Oneindia News

पूर्णिया। बिहार के पूर्णिया जिले के नगर निगम वार्ड 24 स्थित अमरुद बाड़ी के रहने वाले लोगों ने सरकार का मुंह ताकने के बजाय खुद ही आत्मनिर्भरता दिखाते हुए श्रमदान कर सड़क का निर्माण किया। इलाके के डॉक्टर, पदाधिकारी सहित दर्जन लोगों ने खुद फावड़ा और कुदाल उठाया व सड़क बना लिया। इसके बाद स्थानीय लोगों ने बैनर व पोस्टर लगाकर वार्ड पार्षद, मेयर, विधायक और सांसद को लापता घोषित कर दिया। स्थानीय लोगों का कहा है कि यह लिंक रोड है, जहां साल के चार महीने तो जलजमाव और कीचड़ की समस्या बनी रहती है।

purnia people buit road with help of own donating labor and stick poster against government and officers

लोगों का कहना है कि सड़क पर अव्यवस्था होने के चलते बच्चे से लेकर युवा, बुजुर्ग और काम करने वालों लोगों को मजबूरीवश चार महीने घर में जल का कैदी बनकर रह जाते हैं। सड़क की समस्या की शिकायत उन्होंने नगर निगम, लोक शिकायत सहित कई जगहों पर की, लेकिन कोई देखने तक नहीं आया। आखिरी में जब किसी ने भी जहमत नहीं की तो स्थानीय लोग खुद ही कुदाल और फावड़ा लेकर सड़क निर्माण कार्य में जुट गए। स्थानीय लोगों ने कहा कि सड़क पर एकत्रित पानी में बिजली का करेंट भी आता है, जिस कारण कई बार लोगों की जान जाते बची है। एक मवेशी की भी करंट से मौत हो चुकी है।

स्थानीय लोगों का कहना है कि यह काफी पुराना मुहल्ला है। जब वे लोग वार्ड पार्षद आशा देवी से खराब सड़क और जलजमाव की शिकायत करते हैं तो वह कहती हैं कि यह गंगा दार्जिलिंग लिंक रोड है। इसके निर्माण के लिए उनके पास फंड नहीं है। वहीं विधायक और सांसद देखने तक नहीं आये हैं। अंत में उन लोगों ने खुद सड़क निर्माण करने का निर्णय लिया और अब श्रमदान कर सड़क बना रहे हैं।

उन्नाव: सड़क हादसे में दो दोस्तों की मौत के बाद बवाल, 15 पुलिसकर्मी जख्मी, 35 हिरासत मेंउन्नाव: सड़क हादसे में दो दोस्तों की मौत के बाद बवाल, 15 पुलिसकर्मी जख्मी, 35 हिरासत में

बता दें कि इससे पहले पूर्णिया शहर के वार्ड नंबर 26 के अरबिया कॉलेज चौक, माधोपाड़ा के पास स्थित मिल्लत कॉलोनी के लोगों ने भी श्रमदान कर सड़क बनवाई थी। इस साल भी बारिश के दिनों में मोहल्ले में पानी जमा नहीं हो इसके लिए मिल्लत कॉलोनी के लोगों ने चंदे के पैसों से एक हजार फिट लंबी सड़क का निर्माण शुरू कर दिया। मोहल्ले में लोग पिछले 15 साल से रह रहे हैं और इतने ही दिनों से परेशानी को झेल रहे हैं। मोहल्ले के कुछ लोगों ने आपस चंदा किया और सड़क पर मिट्टी डालने का काम शुरु किया। अब राबिश और ईंट का टुकड़ा डाल रहे हैं। मुख्य सड़क पर मेहताब हार्डवेयर की दुकान से शुरू कर मदीना मस्जिद तक सड़क बनाई जा रही है।

English summary
purnia people buit road with help of own donating labor and stick poster against government and officers
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X