India
  • search
बिहार न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

एक मिस कॉल से हुई मोहब्बत, प्रेमिका से मिलने पहुंचा और हो गया जबरदस्त कांड

|
Google Oneindia News

नालंदा, 28 जून 2022। प्रेम विवाह की खबरें आपने पढ़ी और देखी होगी लेकिन क्या प्रेम के जाल में फांस कर अपहरण की खबर सुनी है। जी हां आपको ये सुनकर हैरानी हो रही होगी कि प्रेम में अपहरण भी होता है क्या। बिल्कुल एक ऐसा ही मामला नालंदा के राजगीर से सामने आया है जहां एक युवक को अंजान नंबर से कॉल आने पर दिले देना मंहगा पड़ गया। दरअसल बारहवीं क्लास के एक युवक को एक मिस कॉल आई थी, जिसके बात उस नंबर पर से बातचीत शुरू हुई थी और बाद में दोस्ती मोहब्बत में तब्दील हो गई। मोहब्बत का अंजाम युवक के लिए महंगा साबित हो गया।

एक मिस कॉल से हुई मोहब्बत

एक मिस कॉल से हुई मोहब्बत

राजगीर के बाराखुर्द का रहने वाले मोनू कुमार को 15 जून के दिन अंजान नंबर से मिस कॉल आई थी। फिर जब उसने अंजान नंबर पर कॉल किया तो दूसरी तरफ़ किसी लड़की की आवाज़ थी। दोनो में बातें शुरु हुई जब युवती के बारे में मोनू ने पूछा तो उसने बताया कि वह कैलाश आश्रम निवासी दिपती(बदला हुआ नाम) बोल रही है। इसके बाद दोनों में अकसर बातें होने लगीं धीरे-धीरे दोनों का इश्क परवान चढ़ा । शातिर युवती ने मोनू को मिलने के लिए राजगीर बुलाया। मोहब्बत की दीवानगी ऐसी थी कि बिना कुछ सोच समझे अपने दो दोस्तों के साथ बाइक से ही अपनी प्रेमिका से मिलने पहुंच गया।

बाइक राइड के बहाने किला मैदान ले गई युवती

बाइक राइड के बहाने किला मैदान ले गई युवती

मोनू की ब्रह्मकुंड के पास युवती से मुलाक़ात हुई, फिर मोनू अपनी प्रेमिका और अन्य दोस्तों के साथ रेस्टोरेंट में खाना खाया। खाना खाने के बाद युवती ने युवक को बाइक राइड करवाने के लिए कहा। जिसके बाद वह अपनी प्रेमिका के साथ बाइक राइड करते हुए किला मैदान पहुंचा। मोनू के दोस्त ई रिक्शा पकड़ कर पीछे से आ रहे थे। किला मैदान पहुंचने के बाद युवती बाइक राइड करने लगी। इतनी ही देर में युवक के दोस्त वहां पहुंच गए। उसके दोस्तों को देखते ही युवती ने सिगरेट की डिमांड की। मोनू के दोस्त सिगरेट लाने के लिए गए।

किला मैदान से हुआ था अपहरण

किला मैदान से हुआ था अपहरण

युवती ने युवक को बाइक के पीछे बैठाकर किला मैदान घुमाना शुरू कर दिया। थोड़े ही देर में एक फोर व्हीलर से 5 लोग मौदान में पहुंचे और मोनू को कहा कि मेरी बहन के साथ क्या कर रहा है, अब तू थाने चल। इतना बोलने के बाद सब ने मिलकर मोनू को गाड़ी में बैठा लिया। एक कार सवार ने युवती को बाइक पर बैठाया और चल दिया। कुछ दूर जाने के बाद कार सवार लोगों ने युवक की आंख पर काली पट्टी बांध दी और सुनसान जगह ले जाने लगे। जब मोनू के दोस्त किला मैदान पहुंचे तो उसने देखा कोई नहीं है। थोड़ी देर बाद ही मोनू के नंबर से उसके घर वालों को 10 लाख रुपये की फिरौती की कॉल गई।

10 लाख रुपये फिरौती की मांग

10 लाख रुपये फिरौती की मांग

मोनू के दोस्तों को जब यह बात चली तो वह लोगो दौड़ते हुए राजगीर थाना पहुंचे और सारा मामला पुलिस को बताया। पुलिस ने दोस्तों की शिकायत के आधार पर मोनू के नंबर को ट्रैक किया और फिर कार्रवाई में जुट गई। बदमाशों ने मोनू को किसी अनजान जगह पर रख दिया था। जब फिरौती के पैसे नहीं मिल रहे थे तो बदमाशों की डिमांड भी कम होने लगी। इन लोगों ने 10 लाख की फिरौती की जगह 5 लाख फिर 20 हजार और लास्ट में 7 हजार तक आ गए थे। क़रीब 6 घंटे के बाद भी जब को कुछ नहीं मिला तो वह परेशान हो गए। इतने में उन्हें पता चला कि पुलिस खोजबीन शुरू कर चुकी है तो सभी ने पथरौरा के युवक को छोड़ दिया और फरार हो गए। मोनू ने राह चलते एक आदमी से मदद मांग और पुलिस को फोन किया और फिर मौक़ पर पहुंच कर उसे साथ ले गई।

ये भी पढ़ें: बिहार: हाय रे इलाज ! सदर अस्पताल में क्या ऐसे सेवा देते हैं स्वास्थ्यकर्मी, तस्वीरें बयां कर रही दर्द

Comments
English summary
nalanda boy monu fall in love with one miss call and traped
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X