बिहार: नाबालिग से रेप की रूह कंपाने वाली घटना, आंखें फोड़कर मां बाप भाई का मर्डर

Subscribe to Oneindia Hindi

पटना। बिहार के भागलपुर जिले में रविवार को हैवानियत का दिल दहलाने वाला एक मामला सामने आया जहां एक ही परिवार के तीन लोगों की गला रेतकर दर्दनाक हत्या कर दी गई। बेटी को गंभीर हालत में अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। इसके बाद मामले की जांच-पड़ताल में और भी ऐसे कई खुलासे हुए हैं जो रूह कंपाने वाली हैं। रेप और ट्रिपल मर्डर की इस वारदात में दरिंदों ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दीं।

हैवानियत की सारी हदें पार कीं

हैवानियत की सारी हदें पार कीं

नाबालिक लड़की की इज्जत लूटने के लिए सभी उसके घर में पहुंचे थे लेकिन घर में मौजूद मां, पिता और भाई के द्वारा विरोध किया गया जिसके बाद अपराधी बेकाबू हो गए। पहले भाई और पिता को पीटते हुए हाथ-पैर तोड़े और आंख निकाल लिया, इससे भी जब जी नहीं भरा तो उसने उसकी गुप्तांग काटते हुए 17 साल की बेटी के साथ हैवानियत की घटना को अंजाम दिया। इस घटना में मां, पिता भाई की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। दुष्कर्म की शिकार हुई गंभीर रूप से 17 साल की नाबालिग को पटना के पीएमसीएच में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है।

परिवार पर बरसाया कहर

परिवार पर बरसाया कहर

मिली जानकारी के अनुसार, रविवार की देर रात अपराधियों ने भागलपुर के हरिजन टोला के रहने वाले एक परिवार पर जमकर कहर बरसाया। घर में घुसते हुए बेटी के साथ दुष्कर्म करने की कोशिश कर रहे थे जिसका विरोध करने पर अपराधियों ने पिता-बेटे की आंखें भी निकाल लीं और प्राइवेट पार्ट को काट दिया। फिर लड़की के साथ दरिंदों ने हैवानियत की घटना को अंजाम दिया। जब मामले की जानकारी आस-पास के लोगों को मिली तो मौके पर पहुंचे।

बेटी से रेप को विरोध पर दर्दनाक हत्या

बेटी से रेप को विरोध पर दर्दनाक हत्या

सभी ने वहां खौफनाक मंजर देखा जिसके बाद मामले की जानकारी नजदीकी पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक की लाश को कब्जे में लेते हुए पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। वही मृतक के अस्त-व्यस्त कपड़े और बेहोश पड़ी नंगी नाबालिक लड़की की हालत देख पुलिस ने उसे इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया और मामले की जांच पड़ताल शुरू की। इस घटना को लेकर ऐसा आशंका की जा रही है कि पहले लड़की के साथ रेप करने की कोशिश की गई। वहीं जब इस बात का विरोध करने के लिए उसके पिता और भाई पहुंचे तो उनकी दर्दनाक हत्या कर दी गई। इस घटना की इकलौती चश्मदीद गवाह बेटी है जिसका फिलहाल अस्पताल में इलाज चल रहा है। फिलहाल पुलिस उसके होश में आने का इंतजार कर रही है और आगे की कार्रवाई के लिए आसपास के लोगों से पूछताछ कर रही है। पुलिस का कहना है कि बेटी के साथ रेप का विरोध करने को लेकर तीनों की दर्दनाक हत्या कर दी गई है।

पुलिस कर रही मामले की जांच

पुलिस कर रही मामले की जांच

मामले की जानकारी देते हुए पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आसपास के लोगों द्वारा दी गई सूचना के आधार पर जब पुलिस घटना स्थल पर पहुंची तो घर के पिछले कमरे में जमीन पर पत्नी का लहूलुहान शव पड़ा था तो चौकी पर बेटा और पति था। वहीं बगल के कमरे में बेहोशी की हालत में बेटी पड़ी थी। उसके बदन पर एक भी कपड़ा नहीं था। मामले की जानकारी देते हुए भागलपुर के आईजी सुशील खोपड़े ने बताया कि चश्मदीद घायल किशोरी को पटना रेफर कर दिया गया है। उसके होश में आने का इंतजार किया जा रहा है, जिससे घटना के बारे में सही-सही जानकारी मिल सके। प्राथमिकता के आधार पर केस के खुलासे का निर्देश दिया गया है। इसके बाद वहां के लॉ एंड ऑर्डर की समीक्षा की जाएगी। फिलहाल घटना के कारण का पता नहीं चल पाया है। ऐसा कहा जा रहा है कि इस घटना में आसपास के महादलित परिवार भी संलिप्त थे। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में लगी हुई है और जल्द ही इसका खुलासा करने की बात बता रही है।

Read Also: बिहार: सोते समय मां-बाप और बच्चे की गला रेतकर दर्दनाक हत्या

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Horrific rape incident with girl in Bihar, Parents and brother murdered
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.