• search
बिहार न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

बिहार में स्वास्थ्य विभाग की खुली पोल, मोबाइल टॉर्च की रोशनी में डॉक्टर ने किया पोस्टमार्टम

|

बेतिया। बिहार के बेतिया जिले के बगहा इलाके में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है, जहां एक मृतक के शव का पोस्टमार्टम टॉर्च की रोशनी में किया गया। पोस्टमार्टम हाउस में बिजली की व्यवस्था नहीं होने के कारण पैनल ने टॉर्च की रोशनी में ही पोस्टमार्टम कर दिया। इस घटना के बाद से स्वास्थ्य विभाग की पोल खुल गई है।

doctor did postmortom in betiya district of bihar

मगरमच्छ के हमले में किशोर की मौत के मामले में शव पोस्टमार्टम के लिए बगहा अनुमंडलीय अस्पताल में आया। जहां वरीय पदाधिकारी के आदेशानुसार पोस्टमार्टम हुआ। लाइट नहीं होने पर मोबाइल के रोशनी में ही डॉक्टर एस पी अग्रावाल के देखरेख में बच्चे का पोस्टमार्टम हुआ।

वहीं डॉक्टर का कहना है कि अनुमंडल पदाधिकारी के आदेश से पोस्टमार्टम किया गया । सवाल जब बिजली की व्यवस्था को लेकर पूछा गया तो डॉक्टर ने कहा कि बिजली थी लेकिन फिर भी मोबाइल टॉर्च की रोशनी में पोस्टमॉर्टम करना पड़ा, उसमें कोई दिक्कत नहीं है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
doctor did postmortom in betiya district of bihar
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X