• search
बिहार न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

बिहार चुनाव 2020: पहले चरण की 71 सीटों का पर किस उम्मीदवार की किससे लड़ाई

|

पहले चरण में 16 जिलों की 71 सीटों पर कल यानि 28 अक्टूबर को चुनाव है। कोरोना संकट के बीच भारत का यह पहला विधानसभा चुनाव है। कुल 1066 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। इनमें 114 महिला प्रत्याशी हैं। 2015 में इन 71 में से 25 सीटों पर राजद, 21 सीटों पर जदयू, 14 सीटों पर भाजपा, 8 सीटों पर कांग्रेस के उम्मीदवार जीते थे। 2020 में चुनावी समीकरण बदले हुए हैं। जदयू अब भाजपा के साथ है तो लोजपा एनडीए से अलग हो गयी है। लोजपा ने जदयू के खिलाफ प्रत्याशी दे कर चुनाव में एक नया कोण पैदा कर दिया है। रामविलास पासवान के बाद लोजपा और चिराग की राजनीतिक ताकत का अंदाजा इसी चुनाव से लगेगा। नीतीश कुमार चौथी बार जीत हासिल करने के लिए ये चुनाव लड़ रहे हैं तो तेजस्वी के सामने अपनी काबिलियत साबित करने की चुनौती है। लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद तेजस्वी का राजनीतिक भविष्य अब इसी चुनाव पर टिक गया है। इस चुनाव में चार गठबंधन जोर आजमाइश कर रहे हैं- एनडीए, महागठबंधन, पप्पू यादव का गठबंधन और उपेन्द्र कुशवाहा का गठबंधन। क्या बिहार में चार गठबंधनों के लिए राजनीतिक गुंजाइश है?

    Bihar Election 2020: First Phase Voting कल, दांव पर इन 8 मंत्रियों की प्रतिष्ठा | वनइंडिया हिंदी

    बिहार चुनाव 2020: पहले चरण की 71 सीटों का पर किस उम्मीदवार की किससे लड़ाई

    सुल्तानगंज

    सुल्तानगंज सीट पर जद यू ने सीटिंग विधायक सुबोध राय का टिकट काट कर नये चेहरे ललित मंडल को उम्मीदवार बनाया है। उनका मुकाबला कांग्रेस के ललन यादव से है। लोजपा की नीलम देवी और रालसोपा के हिमांशु प्रसाद भी चुनाव मैदान में है। मुख्य मुकाबला जदयू और कांग्रेस में है।

    कहलगांव

    इस सीट पर कांग्रेस ने अपने दिग्गज नेता और मौजूदा विधायक सदानंद सिंह के पुत्र शुभानंद मुकेश को मैदान में उतारा है। उनका मुकाबला भाजपा के पवन यादव से हैं। बसपा से कृष्ण कुमार मंडल खड़े हैं।

    बांका

    बांका से नीतीश सरकार के मंत्री और भाजपा उम्मीदवार राम नारायण मंडल का मुकाबला राजद के जावेद इकबाल से अंसारी से हैं। रालोसपा से कौशल सिंह तो जाप के अविनाश कुमार सिंह उम्मीदवार हैं।

    कटोरिया

    राजद की विधायक स्वीटी सीमा हेम्ब्रम का मुकाबला भाजपा की निक्की हेम्ब्रम से हैं। इस सीट से झारखंड मुक्ति मोर्चा की अंजेला हांसदा भी चुनौती पेश कर रही हैं। रोज मेरी किस्कू जाप की उम्मीदवार हैं।

    अमरपुर

    अमरपुर विधानसभा सीट पर जदयू के जयंत राज और कांग्रेस के जितेंद्र सिंह में मुख्य मुकाबला है लोजपा ने यहां से मृणाल शेखर को टिकट दिया है। मृणाल शेखर भाजपा के पूर्व नेता हैं।

    धौरेया

    धोरैया सीट पर जदयू के मनीष कुमार और राजद के भूदेव चौधरी में मुख्य मुकाबला है रालोसपा ने यहां से शिव शंकर, लोजपा ने दीपक पासवान और जाप अपने विलक्षण रविदास को उम्मीदवार बनाया है।

    बिहार चुनाव 2020: पहले चरण की 71 सीटों का पर किस उम्मीदवार की किससे लड़ाई

    बेलहर

    बेलहर में राजद के विधायक रामदेव यादव को चुनौती दे रहे हैं जदयू के मनोज यादव। शैलेंद्र कुमार सिंह रालोसपा की तरफ से चुनौती पेश कर रहे हैं।

    मुंगेर

    मुंगेर विधानसभा सीट पर राजद ने अपने सीटिंग विधायक विजय कुमार विजय का टिकट काटकर अविनाश कुमार सिंह को मैदान में उतारा है। राजद उम्मीदवार अविनाश कुमार सिंह को चुनौती दे रहे हैं भाजपा के प्रणव कुमार यादव। रालोसपा में यहां से सुबोध वर्मा को मैदान में उतारा है तो जाप ने मोहम्मद फैसल अहमद को।

    तारापुर

    तारापुर विधानसभा सीट पर जदयू के विधायक मेवालाल चौधरी को चुनौती दे रही हैं राजद की दिव्य प्रकाश। दिव्य प्रकाश राजद नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश नारायण यादव की पुत्री हैं। वे बिहार में सबसे कम उम्र की उम्मीदवार हैं। इस सीट पर लोजपा की मीना देवी, जाप के कर्मवीर कुमार और रालोसपा के जितेंद्र कुमार भी अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं।

    जमालपुर

    नीतीश सरकार मंत्री शैलेश कुमार जमालपुर से जदयू के उम्मीदवार हैं। उन्हें चुनौती दे रहे हैं कांग्रेस के डॉ अजय कुमार। इस सीट पर बसपा ने सुबोध तांती, लोजपा ने दुर्गेश कुमार सिंह और जाप ने महेश यादव को चुनाव मैदान में उतारा है।

    लखीसराय

    बिहार सरकार के मंत्री और भाजपा उम्मीदवार विजय कुमार सिन्हा लखीसराय से उम्मीदवार हैं। उनका मुकाबला कांग्रेस के अमरीश कुमार से है। बसपा ने इस सीट पर राजीव रंजन धानुक को उम्मीदवार बनाया है।

    सूर्यगढ़ा

    सूर्यगढ़ा विधानसभा सीट पर राजद के विधायक प्रह्लाद यादव को चुनौती दे रहे हैं जदयू के रामानंद मंडल। लोजपा ने रविशंकर प्रसाद सिंह को यहां से चुनाव मैदान में उतारा है। रालोसपा के गणेश कुमार मुकाबले को चतुष्कोण यह बना रहे हैं।

    शेखपुरा

    शेखपुरा विधानसभा सीट पर जदयू के रणधीर कुमार सोनी और राजद के विजय सम्राट में मुख्य मुकाबला है। इसी पर लोजपा के इमाम मजाली, जाप के अजय कुमार और रालोसपा के संकेत कुमार भी चुनावी मैदान में हैं।

    बरबीघा

    बरबीघा में जो जदयू के सुदर्शन कुमार और कांग्रेस के मुन्ना शाही के बीच मुख्य मुकाबला है। रालोसपा ने मृत्युंजय कुमार को यहां से अखाड़े में उतारा है। सुदर्शन कुमार पहले कांग्रेस में थे और 2015 का चुनाव उन्होंने ही जीता था। सुदर्शन अब जदयू के उम्मीदवार हैं।

    मोकामा

    मोकामा सीट पर राजद के अनंत सिंह का मुकाबला है जदयू के राजीव लोचन नारायण से। अनंत सिंह 2015 में यहां से निर्दलीय जीते थे। इस बार वे राजद के टिकट पर चुनाव मैदान में हैं। लोजपा ने इस सीट पर सुरेश कुमार निषाद को मैदान में उतारा है तो रालोसपा की तरफ से धीरज रोशन चुनौती पेश कर रहे हैं।

    बिहार चुनाव 2020: पहले चरण की 71 सीटों का पर किस उम्मीदवार की किससे लड़ाई

    बाढ़

    बाढ़ सीट पर भाजपा के विधायक ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू का मुकाबला है कांग्रेस के सत्येंद्र बहादुर से। रालोसपा के राकेश सिंह और जाप के श्यामदेव प्रसाद सिंह भी मुकाबले में हैं।

    पालीगंज

    पालीगंज सीट पर जदयू के जयवर्धन यादव का मुकाबला भाकपा माले के संदीप सौरभ से है। भाजपा की पूर्व नेता उषा विद्यार्थी इस सीट पर लोजपा की उम्मीदवार बन कर चुनाव मैदान में हैं। रालोसपा ने मधु मंजरी और जाप ने फजलुर रहमान को यहां से उम्मीदवार बनाया है। जयवर्धन यादव 2015 में यहां से राजद के टिकट पर जीते थे लेकिन इस बार वे जदयू के उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहे हैं।

    मसौढ़ी

    मसौढ़ी में राजद की रेखा देवी का मुकाबला जदयू की नूतन पासवान से है। लोजपा ने यहां से परशुराम कुमार को उम्मीदवार बनाया है। बसपा के राजकुमार राम भी यहां से दावेदारी पेश कर रहे हैं।

    बिक्रम

    बिक्रम में कांग्रेस के विधायक सिद्धार्थ और भाजपा के अतुल कुमार में मुख्य मुकाबला है। बसपा ने अरुण कुमार चंद्रवंशी और जाप ने चंद्रशेखर यादव को यहां से चुनाव मैदान में उतारा है। भाजपा में बगावत के कारण अतुल कुमार को बहुत अधिक मेहनत करनी पड़ रही है।

    बिहार चुनाव 2020: पहले चरण की 71 सीटों का पर किस उम्मीदवार की किससे लड़ाई

    भोजपुर जिले की 7 सीटें

    भोजपुर जिले की सात सीटों में से पांच पर राजद का कब्जा है। 2015 के चुनाव में राजद को आरा, शाहपुर , बड़हरा, जगदीशपुर और संदेश में विजय मिली थी। राजद ने आरा सीट माले को दे दी है। आरा में माले के कयामुद्दीन अंसारी का मुकाबला भाजपा के अमरेन्द्र प्रताप सिंह से है। संदेश में राजद ने फरार चल रहे विधायक अरुण यादव की पत्नी किरण देवी को मैदान में उतारा है। जदयू ने अरुण यादव के बड़े भाई और पूर्व विधायक विजेन्द्र यादव को मैदान में उतारा है। लोजपा की श्वेता सिंह भी चुनौती पेश कर रही हैं। यहां जदयू और राजद में ही मुख्य मुकाबला है। जगदीशपुर में राजद के विधायक रामविशुन सिंह का मुकाबला जदयू की कुसुमलता कुशवाहा से है। लोजपा ने यहां से पूर्व विधायक भगवान सिंह कुशवाहा को मैदान में उतारा है। शाहपुर में राजद के विधायक का राहुल तिवारी मुकाबला भाजपा की मुन्नीदेवी से है। बड़हरा में राजद के विधायक सरोज यादव को चुनौती पेश कर रहे हैं भाजपा के राघवेन्द्र प्रताप सिंह। राघवेन्द्र पहले राजद में थे और लालू राज में मंत्री भी थे। जदयू के पास अगियांव की सीट है। यहां जदयू विधायक प्रभु राम को चुनौती दे रहे हैं माले के मनोज मंजिल। लोजपा ने राजेश्वर पासवान यहां लड़ाई को त्रिकोणीय बना रहे हैं। तरारी सीट भकपा माले के पास है। यहां माले विधायक सुदामा प्रसाद को भाजपा के कौशल कुमार सिंह चुनौती दे रहे हैं।

    रोहतास जिले की 7 सीटें

    रोहतास जिले की सीत सीटों ( सासाराम, चेनारी काराकाट, नोखा, करहगर, दिनारा, काराकाट) पर कुल 116 उम्मीदवार हैं। पिछले चुनाव में महागठबंधन को छह और एनडीए को एक सीट मिली थी। इस बार जद यू सात में से पांच सीटों पर और भाजपा दो सीटों पर चुनाव मैदान में है। पिछले चुनाव में राजद के टिकट पर सासाराम से जीते अशोक कुमार इस बार जदयू के उम्मीदवार हैं। जदयू के अशोक कुमार को चुनौती दे रहे हैं राजद के राजेश गुप्ता। लोजपा से भाजपा के पूर्व विधायक रामेश्वर चौरसिया ने मुकाबले को दिलचस्प बना दिया है। चेनारी में जदयू के ललन पासवान का मुकाबला है कांग्रेस के मुरारी गौतम से। लोजपा ने पूर्व विधायक चंद्रशेखर पासवान को उम्मीदवार बना कर मुकाबला त्रिकोणीय बना दिया है। करहगर में जदयू के वशिष्ठ सिंह का मुकाबला है कांग्रेस के संतोष मिश्र से। लोजपा के राकेश कुमार सिंह भी चुनौती पेश कर रहे हैं। जिले की सबसे हॉट सीट है दिनारा। यहां नीतीश सरकार के मंत्री और जदयू उम्मीदवार जय कुमार सिंह का मुकाबला भाजपा के पूर्व नेता और अब लोजपा के उम्मीदवार राजेन्द्र सिंह से है। राजद के विजय मंडल भी एक प्रमुख उम्मीदवार हैं। काराकाट सीट पर भाकपा माले के अरुण सिंह का मुकाबला भाजपा के राजेश्वर राज से हैं। 20015 में इस सीट पर राजद के संजय यादव जीते थे। इस बार राजद ने ये सीट माले के दे दी है। डेहरी सीट पर भाजपा के विधायक सत्यनारायण यादव की लड़ाई राजद के फतेह बहाजुर से है। बसपा की सोना देवी भी एक प्रमुख उम्मीदवार हैं। नोखा सीट पर राजद की विधायक अनीता देवी का मुकाबला जदयू नागेन्द्र चंद्रवंशी से है। लोजपा के कृष्ण कबीर जदयू के लिए मुश्किलें पैदा कर रहे हैं।

    बिहार चुनाव 2020: पहले चरण की 71 सीटों का पर किस उम्मीदवार की किससे लड़ाई

    बक्सर जिले की 4 सीटें

    बक्सर जिले में चार विधानसभा क्षेत्र हैं। बक्सर में कांग्रेस के विधायक संजय कुमार तिवारी को चुनौती दे रहे हैं भाजपा के परशुराम चतुर्वेदी। डुमरांव में जदयू की अंजुम आरा का मुकाबला है भाकपा माले के अजीत सिंह से। 2015 में य़हां से जदयू के ददन पहलवान जीते थे लेकिन इस बार उनका टिकट काट दिया गया था। वे निर्दलीय चुनाव मैदान में हैं। राजपुर सीट पर जदयू के संतोष निराला का मुकाबला कांग्रेस के विश्वनाथ राम से है। लोजपा ने यहां से निर्भय कुमार निराला को चुनाव मैदान में उतारा है। ब्रह्मपुर सीट पर एनडीए की तरफ से वीआइपी के उम्मीदवार जयराज चौधरी मुकाबले में हैं। बसपा ने जटाधारी पासवान को प्रत्याशी बनाया है।

    कैमूर की 4 सीटें

    कैमूर जिले की चारों विधानसभा सीटों पर एनडीए की तरफ से भाजपा के उम्मीदवार मुकाबले में हैं। भभुआ में भाजपा की विधायक रिंकी रानी पांडेय का मुकाबला है राजद के भरत बिंद से। भरत बिंद बसपा के बिहार अध्यक्ष थे। पूर्व विधायक रामचंद्र सिंह यादव जाप के उम्मीदाव हैं जिससे लड़ाई त्रिकोणीय हो गयी है। चैनपुर में नीतीश सरकार के मंत्री और भाजपा उम्मीदवार ब्रजकिशोर बिंद का मुकाबला कांग्रेस के प्रकाश कुमार सिंह से है। बसपा ने मो. जमा खान को उम्मीदवार बनाया है। मोहनिया में भाजपा विधायक निरंजन राम को चुनौती दे रही हैं राजद की संगीता देवी। रामगढ़ में भाजपा के विधायक अशोक सिंह को चुनौती दे रहे हैं राजद के सुधाकर सिंह। राजद के पूर्व विधायक अंबिका सिंह यादव बसपा के उम्मीदार हैं इससे इस सीट पर लड़ाई त्रिकोणीय हो गयी है।

    मगध प्रमंडल की 26 सीटें

    मगध प्रमंडल के पांच जिलों गया, नवादा, अरवल, जहानाबाद और औरंगाबाद में कुल 26 विधानसभा सीटें हैं। इनमें 10 सीटों पर राजद का कब्जा है। जदयू के पास छह और कांग्रेस के पास चार सीटें हैं। पांच भाजपा और एक सीट जीतन राम मांझी की हम के पास है। 2010 में जब नीतीश और भाजपा के एक साथ थे तब इन 26 में से केवल एक सीट बेलागंज में राजद के सुरेन्द्र यादव को जीत मिली थी। पूर्व मुख्यमंत्री और हम के प्रमुख जीतन राम मांझी इमामगंज से चुनाव मैदान में हैं और उनका मुकाबला पूर्व स्पीकर और राजद प्रत्याशी उदयनारायण चौधरी से है। भाजपा के दिग्गज नेता और नीतीश सरकार में मंत्री प्रेम कुमार गया शहर से उम्मीदवार हैं। उनको चुनौती दे रहे हैं कांग्रेस के मोहन श्रीवास्तव। गोह से भाजपा के विधायक मनोज शर्मा को चुनौती दे रहे हैं राजद के भीम सिंह। अरवल से भाजपा के दीपक कुमार को चुनौती दे रहे हैं भाकपा माले के महानंद प्रसाद। 2015 में इस सीट पर राजद के रवीन्द्र सिंह को जीत मिली थी।

    बिहार चुनाव 2020: पहले चरण की 71 सीटों का पर किस उम्मीदवार की किससे लड़ाई

    जमुई जिले की चार सीटें

    जमुई जिले में चार विधानसभा सीटें हैं- जमुई, सिकंदरा, झाझा और चकाई। इनमें दो सीटों पर जदयू, एक पर भाजपा और एक पर हम के उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। राष्ट्रमंडल खेलों में भारत की तरफ से शूटिंग में स्वर्ण पदक जीतने वाली श्रेयसी सिंह के चुनाव लड़ने से जमुई सीट चर्चा में है। भाजपा की इस युवा उम्मीदवार के प्रति जनता में उत्सुकता है। श्रेयसी सिंह को चुनौती दे रहे हैं राजद के विजय प्रकाश। जमुई के सांसद और लोजपा प्रमुख चिराग पासवान ने खुल कर श्रेयसी का समर्थन किया है। पूर्व विधायक अजय प्रताप रालोसपा से मैदान में हैं। सिकंदरा में कांग्रेस के बंटी चौधरी का मुकाबला हम के प्रफुल्ल मांझी से हैं। लोजपा के रविशंकर पासवान भी मैदान में हैं। झाझा से जदयू के दामोदर रावत का मुकाबला राजद के राजेन्द्र यादव से है। 2015 में इस सीट पर भाजपा के रवीन्द्र य़ादव जीते थे। वे अब लोजपा का प्रत्याशी बन कर चुनाव मैदान में हैं। झामुमो के अजीत कुमार भी एक प्रमुख उम्मीदवार हैं। चकाई सीट पर जदयू के संजय प्रसाद का मुकाबला राजद की सावित्री देवी से है। सावित्री देवी मौजूदा विधायक हैं। लोजपा ने यहां से संजय कुमार मंडल को मैदान में उतारा है। झामुमो की एलिजाबेथ सोरेन भी अपनी चुनौती पेश कर रही हैं।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Bihar Assembly Elections 2020: Which candidate's fight for 71 seats in the first phase know all
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X