• search
बिहार न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

खुदकुशी से पहले ब्वॉयफ्रेंड के लिए सुसाइड नोट, लिखा- जान, मैं कहीं बिजी नहीं थी, मैं तुम्हारी हूं और...

|

भागलपुर। बिहार के भागलपुर जिले के भागलपुर के सुल्तानगंज थाना क्षेत्र के तांती टोला घाट रोड निवासी किराना दुकानदार संतोष तांती की 17 वर्षीय पुत्री ने फांसी लगा ली। युवती ने खुदकुशी से पहले एक सुसाइड नोट भी लिखा है, जिसमें उसने अपने ब्वॉयफ्रेंड, सहेली और परिवार वालों के लिए अपने दिल की बात कही है। मृतक का नाम शिवानी था। अपने सुसाइड लेटर में उसने बॉयफ्रेंड कुणाल, सहेली अमृता और परिवार वालों के लिए कुछ बात कही है। शिवानी ने खुदकुशी से पहले अपने सुसाइड नोट में जो कुछ भी लिखा है। उससे ये जाहिर होता है कि इस साल का 16 फरवरी उसके लिए बहुत बुरा दिन था, 23 फरवरी को भी बुरा दिन था और 12 मार्च भी वैसा ही दिन रहा।

सुसाइड नोट में ब्वॉयफ्रेंड के लिए लिखा- आई लव यू

सुसाइड नोट में ब्वॉयफ्रेंड के लिए लिखा- आई लव यू

हालांकि सुसाइड नोट के जरिये ये पता नहीं चल पाया कि आखिर ये तीनों दिन उसके लिए बुरे क्यों थे।शिवानी ने अपने सुसाइड नोट में लिखा की अमृता आज मैं अपने प्यार और अपने परिवार को सिर्फ तुम्हारे और अमन की वजह से खो रही हूं। सब सिर्फ तुम्हारी वजह से मुझ पर शक कर रहे हैं। बता दें कि अमन अमृता का ब्वॉयफ्रेंड है। अगली पंक्ति में शिवानी ने अपने ब्वॉयफ्रेंड कुणाल के लिए लिखा कि जान, मैं कहीं बिजी नहीं थी, इसी लड़की यानी कि अमृता को फोन दिया था ताकि वह अपने बॉयफ्रेंड अमन से बात कर सके। मैं तुम्हारी हूं तुम्हारी रहूंगी। आई लव यू। मैं तुमसे प्यार करती हूं।

सुसाइड नोट में परिजनों के लिए लिखा- सब कोई खुश रहना

सुसाइड नोट में परिजनों के लिए लिखा- सब कोई खुश रहना

इसके बाद शिवानी ने अपने परिजनों के लिए लिखा My lovely all family मैं कुणाल से दिल से प्यार करती थी। आप लोगों को वो पसंद नही था लेकिन मैं अपनी पूरी जिन्दगी उसके साथ बिताना चाहती थी। फिर अगली पंक्ति कुछ ऐसी थी जब शायद वह काफी परेशान हो गयी थी। आगे लिखा था- मैं आप लोगों को जान तुम्हें बहुत परेशान किये न, अब नहीं करेंगे। सब कोई खुश रहना। आई लव यू, आपकी शिवानी, बाय।

नानी के घर रहती थी शिवानी

नानी के घर रहती थी शिवानी

यह लिखकर उसने शायद सुसाइड नोट को जल्दबाजी में इस डर के साथ पूरा किया कि कोई आ न जाए और फिर कुछ अनसुलझे सवाल छोड़ कर फंदों से झूल गई। शिवानी बचपन से ही अपने ननिहाल बेगूसराय जिला के लखमिनिया में रहती थी। शिवानी इंटर की छात्रा थी। कुछ दिन पहले ही वह अपने ननिहाल से घर लौटी थी। शिवानी के पिता किराने की दूकान चलाते हैं।

नहाने के बहाने कमरे में गई फिर लगा ली फांसी

नहाने के बहाने कमरे में गई फिर लगा ली फांसी

बीते गुरुवार को दिन के करीब 12 बजे शिवानी नहाने के बहाने से दूसरे मंजिल पर गई, लेकिन करीब डेढ़ घंटे के बाद भी वापस नही लौटी। उस समय दुकान पर मां, छोटा भाई और छोटी बहन थी। शिवानी की मां ने उसकी छोटी बहन को उसे बुलाने के लिए भेजा। बहन ने जाकर देखा तो कहा कि कमरे का दरवाजा अन्दर से बंद है। दीदी दरवाजा नहीं खोल रही है | उसकी बात सुनकर सभी लोग वहां पहुंचे। किसी अनहोनी की आशंका से डरे परिवार वालों ने दरवाजा तोड़ दिया।

घटना की सूचना स्थानीय पुलिस को दी

घटना की सूचना स्थानीय पुलिस को दी

दरवाजा टूटते ही अंदर घुसे तो शिवानी को फंदे से लटके हुए पाया। आनन फानन में रस्सी काटकर उसे नीचे उतारा गया लेकिन तब तक शिवानी की मौत हो चुकी थी। इसके बाद घटना की सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई। थानाध्यक्ष रतनलाल ठाकुर घटनास्थल पर पहुंचे और लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज भेज दिया।

पूर्व सैनिक ने पत्नी के सिर में गोली मारकर की खुदकुशी, 14 दिन पहले हुई थी पिता की मौतपूर्व सैनिक ने पत्नी के सिर में गोली मारकर की खुदकुशी, 14 दिन पहले हुई थी पिता की मौत

English summary
bhagalpur girl did suicide and left note for family boyfriend and friend
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X