• search
भोपाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

शिवसेना के मुखपत्र सामना में मप्र सरकार की अनाथ बच्चों को पेंशन व शिक्षा देने वाली योजना की तारीफ

|

भोपाल, 15 मई।​ शिवसेना के मुखपत्र सामना का सम्पादकीय लेख अक्सर सुर्खियों में रहता है। सामना में इस बार मध्य प्रदेश शिवराज सिंह चौहान और 1984 सिख विरोध दंगों का जिक्र हुआ है। शिवराज सिंह चौहान सरकार ने गुरुवार को ऐलान किया था कि कोरोना महामारी के दौरान माता-पिता और अभिभावकों को खो देने वालों बच्चों को हर माह पांच हजार रुपए की पेंशन और ​निशुल्क शिक्षा मुहैया करवाई जाएगी।

 Shiv Sena Saamana editorial on Shivraj Singh Chauhan

इस पर सामना में लिखा गया है कि मध्य प्रदेश सरकार का यह फैसला यह अन्य राज्यों के लिए एक आदर्श हो सकता है। राज्य और केंद्र सरकारों को उन बच्चों का संज्ञान लेना होगा जो कोविड -19 के कारण अनाथ हो गए थे और उन्हें 'मानवता की ढाल' दी जानी चाहिए।

कुलदीप रांका : कोविड-19 संक्रमित वो IAS जिन्होंने घर पर इन 8 तरीकों से दी कोरोना को मात</a><a href=" title="कुलदीप रांका : कोविड-19 संक्रमित वो IAS जिन्होंने घर पर इन 8 तरीकों से दी कोरोना को मात" />कुलदीप रांका : कोविड-19 संक्रमित वो IAS जिन्होंने घर पर इन 8 तरीकों से दी कोरोना को मात

सामना के संपादकीय में लिखा है कि 'कई बच्चे इस बात से अनजान हैं कि उनके माता-पिता जो कोविड से लड़ रहे हैं, वे अस्पताल से नहीं लौट सकते। सरकार को इन अनाथ बच्चों का अभिभावक बनकर उनकी देखभाल करनी होगी। चाहे केंद्र सरकार हो या राज्य, उन्हें इन बच्चों पर ध्यान देना होगा और उन्हें मानवता की ढाल देनी होगी जिस तरह से मध्य प्रदेश के शिवराज चौहान ने किया है।'

सामना में सिख विरोधी दंगों का भी जिक्र

शिवसेना के मुखपत्र में गुजरात भुकंप और 1984 के सिख दंगों का भी जिक्र किया गया है। दोनों ही घटनाओं में भी बड़ी संख्या में बच्चे अनाथ हुए थे। इनके अलावा चक्रवात, तूफान, हादसों में भी मां-बाप गुजर जाते हैं व मासूम बच्चे बेसहारा हो जाते हैं। इन सभी अनाथ बच्चों के भविष्य के बारे में पालक की हैसियत से सरकार को ही सोचना होगा। कोरोना महामारी में मध्य प्रदेश की सरकार ने शानदार पहल की। शिवराज सिंह चौहान का आभार!

English summary
Shiv Sena Saamana editorial on Shivraj Singh Chauhan government scheme to provide pension and education to orphans
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X