• search
भोपाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

MP के सरकारी स्कूलों में सुधरेगा शिक्षा का स्तर! शिक्षा विभाग ने उठाया ये बड़ा कदम

|
Google Oneindia News

भोपाल, 20 मई। सरकारी स्कूल में पढ़ाई को लेकर बिहार के छात्र सोनू कुमार द्वारा फैलाई गई शिक्षा में सुधार की चिंगारी अब पूरे देश में फैलते हुए नजर आ रही है। दरअसल मध्य प्रदेश के शिक्षा विभाग ने फैसला किया है कि एमपी के 52 जिलों में स्थित सरकारी स्कूलों की रैंकिंग जारी की जाएगी। कक्षा एक से आठवीं तक के सभी स्कूलों की रैंकिंग जारी होगी। स्कूल शिक्षा केंद्र ने जानकारी देते हुए बताया कि 20 मई को एमपी के सभी 52 जिलों के स्कूलों की रैंकिंग जारी की जाएगी।

सीएम डैशबोर्ड पर भी अपलोड की जाएगी रैंकिंग

सीएम डैशबोर्ड पर भी अपलोड की जाएगी रैंकिंग

मध्य प्रदेश में पहली बार कक्षा 1से 8 वीं तक के सभी स्कूलों की रैंकिंग जारी की जाएगी। यह रिपोर्ट सभी अधिकारियों के साथ-साथ जिले के कलेक्टर और संभागीय आयुक्त के साथ भी साझा की जाएगी। रैंकिंग में निर्धारित होने के बाद इसे सीएम के डैशबोर्ड पर भी अपलोड किया जाएगा।

रैंकिंग से स्कूलों की गुणवत्ता में होगा सुधार

रैंकिंग से स्कूलों की गुणवत्ता में होगा सुधार

स्कूल शिक्षा केंद्र के अनुसार रैंकिंग जारी होने से स्कूलों की गुणवत्ता में सुधार किया जाएगा। इससे स्कूल में क्या कमी है? बच्चों को शिक्षा मिलने में क्या-क्या परेशानी आ रही है। इस बात पर भी जोर दिया जाएगा। स्कूल में शिक्षा के साथ-साथ स्पोर्ट्स गतिविधियों पर भी फोकस किया जाएगा।

पिछले कई दिनों से सरकारी स्कूल में शिक्षा को लेकर बिहार का बच्चा सोनू कुमार सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। शायद इसी बात से प्रभावित होकर मध्य प्रदेश के स्कूल (School) शिक्षा विभाग ने इस प्रकार का आदेश जारी किया हैं।

कौन हैं सोनू कुमार

कौन हैं सोनू कुमार

बिहार के सीएम नीतीश कुमार के सामने बेबाकी से अपनी बात रखने वाले छात्र सोनू कुमार की पूरे देश में चर्चा हो रही है। रातों रात वायरल हुए सोनू कुमार की मदद के लिए कई लोग आगे रहे हैं। सभी लोग उसकी हर मुमकिन मदद करने की बात कर रहे हैं। आपने अनिल कपूर की नायक मूवी ज़रूर देखी होगी, उस फिल्म के एक दृश्य में रानी मुखर्जी ने गांव में बिजली की बदहाली की शिकायत मुख्यमंत्री से की थी। ठीक उस फ़िल्म की पटकथा को सोनू कुमार ने चरितार्थ कर दिखाया है। सोनू कुमार ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने शराब बंदी और शिक्षा व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी।

एक गरीब परिवार का बटा सोनू कैसे हुआ वायरल

एक गरीब परिवार का बटा सोनू कैसे हुआ वायरल

सोनू कुमार बेहद ग़रीब परिवार से ताल्लुक रखता है। उसके पिता गांव में छोटी सी गुमटी में दही बेचते हैं। इसके साथ ही छोटे से जमीन पर खेती करते हैं। उसकी मां गृहणी हैं। दो भाइयों में सोनू सबसे बड़ा है। सोनू बड़ा हो कर आईएएस अधिकारी बनना चाहता है, ताकि वह अपने राज्य और देश की सेवा कर सके। उसका कहना है कि ऐसा तब मुमकिन होगा, जब उसे बेहतर शिक्षा मिलेगी। वहीं अभिनेता सोनू सूद ने नालंदा के सोनू का पटना के एक निजी स्कूल में दाखिला करवा दिया है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि सोनू की इस सोनू ने सुन ली। स्कूल का बैग बांधिएं।आपकी पूरी शिक्षा और हॉस्टल का इंतजाम कर दिया गया है। वहीं उन्होंने उसकी हिम्मत की तारीफ़ करते हुए जज़्बे को सलाम किया।

यह भी पढ़ें : जिस सोनू ने की थी पढ़ने की गुजारिश, अब उससे Sonu Sood ने किया ये वादा

Comments
English summary
Schools of Madhya Pradesh will improve due to Sonu revolution, Ranking will be released
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X