• search
भोपाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

मध्य प्रदेश में निजी अस्पताल मनमर्जी से नहीं बढ़ा सकेंगे कोविड-19 के इलाज की फीस, बेड की संख्या भी बतानी होगी

|

भोपाल। मध्य प्रदेश स्वास्थ्य सेवा संचालनालय ने निजी अस्पतालों पर नकेल कसनी शुरू की है। यह सख्ती रोगियों से अधिक चार्ज लेने की शिकायतों के चलते की जा रही है। प्रदेश के सभी निजी नर्सिंग होम एवं क्लीनिक के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। सभी संचालकों को रोगियों की संख्या और उनसे लिए जाने वाले शुल्क का चार्ट अस्पताल में अलग से प्रदर्शित करना होगा। लगातार सख्ती के बावजूद कोविड-19 मरीजों की बढ़ती संख्या एवं निजी अस्पतालों में रोगी के परिजनों से अधिक शुल्क वसूलने की संभावना को देखते हुए यह निर्देश जारी किए गए हैं।

Private hospitals in Madhya Pradesh will not be able to increase Covid-19 treatment fees
    MP: Corona Positive मरीज को लेकर गन्ने का जूस पीते नजर आए स्वास्थ्यकर्मी | वनइंडिया हिंदी

    ये हैं जारी निर्देश

    निजी पंजीकृत चिकित्सालय द्वारा अपनी अन्य चिकित्सीय सेवाओं के साथ-साथ कोविड-19 रोगियों के इलाज के लिए निर्धारित सेवा शुल्क/पैकेज अलग से रजिस्ट्रेशन काउंटर एवं अन्य सुलभ स्थानों पर चिकित्सालय में प्रदर्शित किए जाएंगे। उपरोक्त प्रदर्शित दर सूची में किसी निर्धारित पैकेज से अलग चार्ज की जाने वाली सेवाएं एवं उनकी दरें भी स्पष्ट रूप से अंकित होनी चाहिए। उपरोक्त के अलावा यह दरें किसी भी रोगी या उनके परिजनों के मांगने पर दरों की प्रति उपलब्ध कराई जाएगी।

    शाम को कैबिनेट की बैठक लेंगे सीएम शिवराज सिंह चौहान, इन मुद्दों पर करेंगे चर्चाशाम को कैबिनेट की बैठक लेंगे सीएम शिवराज सिंह चौहान, इन मुद्दों पर करेंगे चर्चा

    कोविड-19 मरीजों के उपचार के लिए निर्धारित दरें/पैकेज एवं किसी प्रकार से अधिक चार्ज होने वाली सेवा की दरें या विस्तृत दर सूची संबंधित मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के आधिकारिक ईमेल पर प्राप्त की जाए। पंजीकृत अस्पताल में उपलब्ध बेड की दैनिक अपडेट जानकारी रजिस्ट्रेशन काउंटर पर रोगियों/परिजनों की जानकारी के लिए उपलब्ध कराई जानी चाहिए। यह जानकारी प्रतिदिन सार्थक पोर्टल पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार दी जाएगी। दरों में चिकित्सीय दर विशेषकर कोविड-19 मरीजों के उपचार हेतु किसी भी प्रकार का संशोधन होने के पूर्व मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को सूचित किया जाए।

    English summary
    Private hospitals in Madhya Pradesh will not be able to increase Covid-19 treatment fees
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X