India
  • search
भोपाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

MP नगरीय निकाय चुनाव: वोटर्स के लिए जरूरी खबर, न करें ये गलती वरना वोट होगा खराब

|
Google Oneindia News

भोपाल, 5 जुलाई: मध्य प्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव के प्रथम चरण का मतदान 6 जुलाई बुधवार को है। इस बार नगर निगम सीमा में वोटरों को महापौर सहित पार्षद के लिए भी मतदान करना है। मतदान के लिए मतदान केंद्र पर दो अलग-अलग ईवीएम मशीने इंटरलिंक की गई हैं। इन ईवीएम मशीनों पर हर मतदाता को 2 बार वोट करना होगा। 1 महापौर प्रत्याशी के लिए और दूसरा पार्षद प्रत्याशी के लिए बटन को दबाना होगा। इस बार राज्य निर्वाचन आयोग ने वोटरों के लिए 1 नई शर्त भी जोड़ी है। इसके मुताबिक शत प्रतिशत मतदान करने के लिए महापौर समेत पार्षद पद के लिए भी बटन दबाना होगा। किसी 1 बटन को दबाने से मतदान पूरा नहीं होगा।

cal election,

उप जिला निर्वाचन अधिकारी शिवाय अर्जरिया के जानकारी अनुसार अगर महापौर पद पर आपने बटन दबा दिया और बिना पार्षद पद के बटन दबाए आप मतदाता केंद्र से बाहर निकल आए तो आपका वोट अंडर वोट के रूप में दर्ज किया जाएगा। इसलिए बेहतर होगा कि दोनों ही पदों के प्रत्याशी का चयन करें और बटन दबाएं। इतना ही नहीं, अगर आप प्रत्याशियों से नाखुश हैं तो नोटा का बटन भी दबा सकते हैं। इस नई व्यवस्था से पार्षद और महापौर पद पर होने वाली मतगणना में अनुपात के चलते बेहतर आंकड़े सामने आ सकते हैं. क्योंकि, पहले मतगणना प्रक्रिया में परेशानी का सामना करना पड़ता था।

cal election,2

इतने मतदाता केंद्र पर होगा मतदान

नगरीय निकाय चुनाव के प्रथम चरण में 49 जिलों के 133 नगरीय निकाय मैं वोट डाले जाएंगे। 11 नगर निगम, 36 नगर पालिका और 86 नगर परिषद में वोटिंग होगी। निर्वाचन आयोग के जानकारी अनुसार संवेदनशील मतदान केंद्रों की ड्रोन कैमरा से निगरानी रखी जाएगी। इस चुनाव में ट्रांसपेरेंसी के लिए इस बार डीएमएम के जरिये एक-एक मतदान का आंकड़ा रखा जाएगा। मतदान के दिन सभी 49 जिलों में अवकाश रहेगा। निकाय चुनाव के प्रथम चरण के लिए मध्य प्रदेश में 13148 पोलिंग बूथ तैयार किए गए हैं। इसमें 3503 पोलिंग बूथ संवेदनशील हैं। संवेदनशील मतदान केंद्रों पर मोबाइल पार्टियों और सेक्टर मजिस्ट्रेट एक्टिव रहेंगे। नगरीय निकाय चुनाव के प्रथम चरण में मतदान ईवीएम से होगा।

नगरीय निकाय महापौर और पार्षद के चुनाव में इस बार नोटा भी उपयोग किया जा सकता है। जहां 15 या 15 से कम प्रत्याशी होंगे। वहां एक कंट्रोल यूनिट होगी और जहां अधिक प्रत्याशी होंगे वहां एक अतिरिक्त बैलेट यूनिट लगाई जाएगी। नगरिया निकाय चुनाव में ट्रांसपेरेंसी के लिए डिटैचेबल मेमोरी मॉड्यूल का इस्तेमाल किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें- मोदी और अमिताभ बच्चन को गिफ्ट देने वाले के पास नहीं है घर, सुई से लेकर बाइक बनाने का हुनर'यह भी पढ़ें- मोदी और अमिताभ बच्चन को गिफ्ट देने वाले के पास नहीं है घर, सुई से लेकर बाइक बनाने का हुनर'

Comments
English summary
MP urban body elections: Important news for voters
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X