• search
भोपाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का अंतिम संस्कार भोपाल में होगा, UP के देवरिया से 20 साल पहले MP शिफ्ट हुआ परिवार

|
Google Oneindia News

भोपाल, 15 दिसम्बर। आठ दिसम्बर को तमिलनाडु के कुन्नूर में देश के प्रथम CDS जनरल बिपिन रावत के साथ Mi-17 हेलिकॉप्टर क्रैश हादसे में एकमात्र जिंदा बचे ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह भी मौत से जंग हार गए। सात दिन तक चले उपचार के बाद 15 दिसम्बर को वरुण सिंह वीरगति को प्राप्त हो गए। उनका अंतिम संस्कार शुक्रवार को मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में किया जाएगा।

भोपाल की सनसिटी में रहता है वरुण सिंह का परिवार

भोपाल की सनसिटी में रहता है वरुण सिंह का परिवार

यूं तो ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले के कन्हौली गांव के रहने वाले थे, मगर बीस साल पहले उनका परिवार यूपी से एमपी के भोपाल में शिफ्ट हो गया था। वर्तमान में उनका परिवार भोपाल में एयरपोर्ट रोड स्थित सनसिटी कॉलोनी में रह रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सीडीएस हेलिकॉप्टर हादसे में शहीद हुए भारतीय वायुसेना के ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का भोपाल में अंतिम संस्कार किए जाने की पुष्टि भोपाल जिला कलेक्टर अविनाश लवानिया ने की है।

शुक्रवार को होगा वरुण सिंह का अंतिम संस्कार

शुक्रवार को होगा वरुण सिंह का अंतिम संस्कार

भोपाल जिला कलेक्टर अविनाश लवानिया ने बताया कि शहीद ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का अंतिम संस्कार भोपाल में होगा। गुरुवार दोपहर सेना के विमान से पार्थिव देह भोपाल आएगी। शुक्रवार को उनका अंतिम संस्कार होगा। उनके परिवार के लोग गृह क्षेत्र देवरिया से भोपाल के लिए रवाना हो गए हैं।

 शहीद वरुण सिंह का परिवार

शहीद वरुण सिंह का परिवार

पिता-कर्नल केपी सिंह, रिटायर्ट

माता-उमा सिंह, निजी स्कूल में टीचर
भाई-तनुज नौसेना में लेफ्टिनेंट कमांडर
पत्नी-गीतांजलि सिंह
बच्चे- बेटी आराध्या, बेटा रिद रिमन

वेलिंगटन में रहते थे वरुण सिंह

वेलिंगटन में रहते थे वरुण सिंह

बता दें कि वरुण सिंह तमिलनाडु के वेलिंगटन में डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज (DSSC) के डायरेक्टिंग स्टाफ में भी शामिल थे। वे मां उमा देवी, पत्नी व बच्चों के साथ वेलिंगटन में रहते थे। वरुण इसी साल दिवाली पर भोपाल आकर गए थे।

रिटायरमेंट के बाद खेती करना चाहते थे वरुण

मीडिया से बातचीत में ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह चाचा राजीव सिंह ने बताया कि

वरुण सिंह बहुत मिलनसार थे। वे भारतीय वायुसेना से रिटायर होने के बाद गांव में बसना चाहते थे। गांव में वे खेती करना चाहते थे।

Group Captain Varun Singh Passes Away: President, Modi समेत इन्होंने दी श्रद्धांजलि | वनइंडिया हिंदी

अभिनंदन के बैचमैट थे

ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्धमान के बैचमैट रहे हैं। अभिनंदन वर्धमान ने ही 27 फरवरी 2019 को भारत की सीमा में घुसे पाकिस्तानी विमानों को खदेड़ा था। ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह डीएसएससी में पदस्थ होने के चलते उनका पूरा परिवार तमिलनाडु में रहता है। ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह, कांग्रेस नेता और प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह के भतीजे हैं।

हेलिकॉप्टर हादसे में इन्होंने भी गंवाई जान

हेलिकॉप्टर हादसे में इन्होंने भी गंवाई जान

1. CDS बिपिन रावत
2. रावत की पत्नी मधुलिका
3. ब्रिगेडियर एलएस लिद्दर
4. लेफ्टिनेंट कर्नल हरजिंदर सिंह
5. विंग कमांडर पीएस चौहान
6. स्क्वॉड्रन लीडर के सिंह
7. जेडब्ल्यूओ दास
8. जेडब्ल्यूओ प्रदीप ए
9. नायक गुरसेवक सिंह
10. नायक जितेंद्र कुमार
11. लांस नायक विवेक कुमार
12. लांस नायक साई तेजा
13. हवलदार सतपाल

शहीद कुलदीप सिंह राव की चिता के सामने खड़ी वीरांगना बिलखते हुए बोलीं-'I Love You Kuldeep', देखें VIDEOशहीद कुलदीप सिंह राव की चिता के सामने खड़ी वीरांगना बिलखते हुए बोलीं-'I Love You Kuldeep', देखें VIDEO

Comments
English summary
IAF Group Captain Varun Singh martyred in CDS helicopter crash will be cremated in Bhopal
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X