India
  • search
भिंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Wireless Jammer : दूरसंचार मंत्रालय ने एडवाइजरी और चेतावनी जारी की

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 04 जुलाई : जैमर और बूस्टर से जुड़ी एडवाइजरी (jammer and booster advisory) में केंद्रीय सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कहा है कि विशेष रूप से अनुमति को छोड़कर, सेलुलर सिग्नल जैमर, जीपीएस ब्लॉकर या अन्य सिग्नल जैमिंग डिवाइस का उपयोग आम तौर पर अवैध है। सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय के मुताबिक निजी क्षेत्र के संगठन और/या निजी व्यक्ति भारत में जैमर की खरीद/उपयोग नहीं कर सकते।

ashwini vaishnaw

दरअसल, मिनिस्ट्री ऑफ कम्युनिकेशंस के तहत आने वाले दूरसंचार विभाग (DoT) के मुताबिक संचार मंत्रालय ने 1 जुलाई, 2022 को वायरलेस जैमर और बूस्टर / रिपीटर्स के उचित उपयोग पर आम जनता के लिए सलाह जारी की।

संचार मंत्रालय की एडवाइजरी में कहा गया है कि भारत में सिग्नल जैमिंग उपकरणों का विज्ञापन, बिक्री, वितरण, आयात या बाजार में किसी और तरीके से उपयोग करना गैरकानूनी है। इसके लिए विशेष दिशानिर्देशों के तहत सशर्त अनुमति दी गई है।

सिग्नल बूस्टर / रिपीटर के संबंध में संचार मंत्रालय ने कहा, लाइसेंस प्राप्त दूरसंचार सेवा प्रदाताओं के अलावा किसी भी व्यक्ति / संस्था द्वारा मोबाइल सिग्नल रिपीटर / बूस्टर को रखना, बिक्री करना और / या उपयोग करना गैरकानूनी है।

ये भी पढ़ें- Shiv Sena MP संजय राउत के खिलाफ वारंट, पूर्व भाजपा सांसद की पत्नी से जुड़ा है मामलाये भी पढ़ें- Shiv Sena MP संजय राउत के खिलाफ वारंट, पूर्व भाजपा सांसद की पत्नी से जुड़ा है मामला

Comments
English summary
Department of Telecom issues advisory to public on proper use of wireless jammer, booster
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X