• search
बरेली न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

चिन्मयानंद मामला: फिरौती मांगने की आरो​पित छात्रा को बड़ा झटका, परीक्षा दिलवाने से विश्वविद्यालय का इनकार

|

बरेली। यौन शोषण के आरोपी पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद से पांच करोड़ फिरौती मांगने के आरोप में जेल में बंद पीड़ित छात्रा सोमवार को रुहेलखंड यूनिवर्सिटी परीक्षा देने पहुंची। यूनिवर्सिटी ने छात्रा के बैक पेपर की परीक्षा तो करा दी, लेकिन एलएलएम थर्ड सेमेस्टर की अन्य परीक्षाएं दिलाने से इनकार कर दिया है।

chinmayanand case law student not allowed to appear in third semester exam

बता दें, सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर छात्रा का प्रवेश रुहेलखंड विश्वविद्यालय में कराया गया था। छात्रा की ओर से उसके वकील कलविंदर सिंह ने सीजेएम ओमवीर सिंह की कोर्ट में अर्जी दी थी, जहां से शनिवार को परीक्षा की अनुमति होने पर पुलिस अभिरक्षा में बरेली भेजे जाने के आदेश जेल प्रशासन को दिए थे। आदेश की कापी भी उन्हें मिल गई थी।

सोमवार को छात्रा रुहेलखंड यूनिवर्सिटी बरेली परीक्षा देने पहुंची। हालांकि, अब यूनिवर्सिटी ने एलएलएम थर्ड सेमेस्टर की अन्य परीक्षाएं दिलाने से इनकार कर दिया है। बताया गया कि कक्षा में छात्रा की उपस्थिति पूरी नहीं होने की वजह से छात्रा का परीक्षा फॉर्म फॉरवर्ड नहीं किया गया, न ह एडमिट कार्ड जारी किया गया है। विश्वविद्यालय ने जेल प्रशासन को भी मामले की जानकारी दे दी है। विश्वविद्यालय प्रशासन ने कहा कि कोर्ट से कोई नया आदेश मिलने तक छात्रा को कोई राहत नहीं दी जा सकती।

स्वामी चिन्मयानंद केसः आरोपी छात्रा की कोर्ट में हुई पेशी, 3 दिसंबर को होगी अगली सुनवाई

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
chinmayanand case law student not allowed to appear in third semester exam
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X