• search
बलिया न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

जानिए कौन है विंग कमांडर मनीष सिंह, जो फ्रांस से राफेल उड़ाकर ला रहे भारत

|

बलिया। भारतीय वायुसेना के लिए आज का दिन काफी ऐतिहासिक है, क्योंकि राफेल विमान भारत की सरजमीं पर पहुंच रहा है। फ्रांस से राफेल ला रहे पायलट्स में उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के लाल मनीष सिंह भी शामिल हैं। मनीष सिंह बलिया के बांसडीह तहसील के छोटे से गांव बकवां के रहने वाले है और उनका पूरा परिवार फौजी रहा है। इनके पिता मदन सिंह स्वयं थल सेना से अवकाश प्राप्त जवान हैं।

    जानिए कौन है विंग कमांडर मनीष सिंह, जो फ्रांस से राफेल उड़ाकर ला रहे भारत
    बकवां गांव में खुशी का माहौल

    बकवां गांव में खुशी का माहौल

    वहीं, अखबारों और न्यूज़ चैनलों के माध्यम से जब बकवां गांव के लोगों को पता चला कि विंग कमांडर मनीष सिंह राफेल विमान को भारत लाने वाली टीम में शामिल है तो उनके गांव में खुशी का माहौल है। गांव के युवा मनीष को अपना प्रेरणास्त्रोत बताते हैं। लड़ाकू विमान राफेल लेकर मनीष के स्वदेश लौटने की सूचना मिलने के बाद गांव के उत्साही युवकों ने एक-दूसरे का मुंह मीठा कराकर खुशी का इजहार किया। फौजी मदन सिंह के पुत्र मनीष सिंह अपने भाई बहनों में सबसे बड़े हैं। गांव की गलियों से निकल कर विंग कमांडर तक पहुंचे मनीष की आरम्भिक शिक्षा गांव के एक निजी स्कूल नूतन शिक्षा निकेतन में हुई है।

    2002 में इंडियन एयरफोर्स में पायलट हुए मनीष

    2002 में इंडियन एयरफोर्स में पायलट हुए मनीष

    छठवीं कक्षा तक गांव में पढ़ाई करने के बाद उनकी आगे की शिक्षा करनाल के कुंजपुरा स्थित सैनिक स्कूल से हुई, जहां इनके पिता सेना में सेवारत थे। मनीष वर्ष-2002 में इंडियन एयरफोर्स में पायलट हुए। अंबाला व जामनगर के बाद दो वर्ष पूर्व साल 2017- 2018 में इनकी तैनाती गोरखपुर में थी। उस समय मनीष अपने गांव बकवां आए थे। फ्रांस से लड़ाकू विमान राफेल की डील के बाद मनीष को प्रशिक्षण के लिए सरकार ने फ्रांस भेजा था। इनके साथ अन्य विंग कमांडर भी रहे। चर्चित लड़ाकू विमान को फ्रांस से भारत लाने वाली टीम में शामिल होकर विंग कमांडर मनीष सिंह ने बलिया का नाम पूरे देश मे रौशन किया है।

    2014 में वृत्तिका सिंह से हुआ था विवाह

    2014 में वृत्तिका सिंह से हुआ था विवाह

    बता दें कि विंग कमांडर मनीष का विवाह वर्ष 2014 में लखनऊ की कंप्यूटर इंजीनियर वृत्तिका सिंह से हुआ था। इन्हें एक पुत्र केविन सिंह (7वर्ष) भी हैं। फ्रांस से रवानगी से पूर्व मनीष ने अपने पिता मदन सिंह को बताया कि वह शीघ्र ही राफेल लेकर भारत के लिए उड़ान भरने वाले हैं। पिता फौजी मदन सिंह व मां उर्मिला देवी ने कहा कि निश्चित रूप से बेटे की उपलब्धि न सिर्फ मेरे लिए बल्कि पूरे देश के लिए गर्व की बात है। पिता ने कहा कि देश की सेवा में मेरे बाद मेरा बेटा डटा हुआ है। यह सोचकर सिर गर्व से ऊंचा हो जाता है। वहीं छोटी बहनें प्रियंका व अंकिता भी बड़े भाई की उपलब्धि पर काफी खुश नजर आईं।

    हरदोई के रहने वाले हैं विंग कमांडर अभिषेक त्रिपाठी

    हरदोई के रहने वाले हैं विंग कमांडर अभिषेक त्रिपाठी

    बता दें कि फ्रांस से राफेल उड़ाकर लाने में उत्तर प्रदेश के एक और लाला का नाम पहले ही आ चुका है। इस विंग कमांडर का नाम अभिषेक त्रिपाठी है। अभिषेक हरदोई जनपद के संडीला कस्बे के मोहल्ला बरौनी के निवासी हैं। संडीला निवासी अनिल त्रिपाठी जयपुर में रहते हैं। अनिल त्रिपाठी के बेटे अभिषेक एयर फोर्स में विंग कमांडर हैं। ऐसे में अब फ्रांस से राफेल लाने वाले यूपी के दो लाल हो गए हैं।

    ये भी पढ़ें:- UAE में जहां रुका था राफेल फाइटर जेट ,उसके नजदीक Iran ने किया मिसाइल हमला

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Know who is Wing Commander Manish Singh, who is bringing India from France by blowing Rafael
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X