• search
बागपत न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

भाजपा ज्वाइन करने के चंद घंटे बाद ही RLD में लौटीं ममता किशोर, लगाया यह गंभीर आरोप

|
Google Oneindia News

बागपत, जून 26: जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए नामांकन प्रक्रिया आज यानी शनिवार 26 जून से शुरू हो गई। नामांकन प्रक्रिया शुरू होने से पहले उत्तर प्रदेश के बागपत जिले में बड़ा सियासी उलट फेर देखने को मिला। दरअसल, यहां नामांकन से चंद घंटे पूर्व रालोद प्रत्याशी ममता जयकिशोर भाजपा में शामिल हो गईं, लेकिन हैरानी तब हुई जब वो बीजेपी ज्वाइन करने के चंद घंटे बाद ही वह फिर से रालोद में शामिल हो गईं। इतना ही नहीं, ममता जयकिशोर ने आरएलडी के सिंबल पर अपना नामांकन दाखिल कर दिया। बता दें कि बागपत जिला पंचायत अध्यक्ष की यह सीट अनुसूचित जाति और महिला के लिए आरक्षित है।

Mamta Kishor returned to RLD only a few hours after joining BJP

जिला पंचायत सदस्य पद के चुनाव में राष्ट्रीय लोकदल (आरएलडी) पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मजबूत दल के रुप में उभरा था। लेकिन बागपत सीट पर पार्टी को चुनाव से ठीक पहले तगड़ा झटका लगा। दरअसल, पार्टी ने बागपत से जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए ममता किशोर को उम्मीदवार बनाया था, लेकिन वो अपने पति जय किशोर के साथ आरएलडी छोड़कर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में शामिल हो गई थी। ममता किशोर के आरएलडी छोड़कर बीजेपी में शामिल हो जाने के बाद बागपत में आरएलडी से जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए कोई उम्मीदवार नहीं बचा। हालांकि, ममता जयकिशोर ने अपना फैसला बदला और चंद घंटे बाद ही भाजपा को छोड़कर फिर से रालोद का दामन थाम लिया।

रालोद कार्यालय में हुई प्रेस वार्ता में ममता के पति जयकिशोर ने कहा कि वह रालोद के सच्चे सिपाही हैं। तो वहीं, रालोद प्रत्याशी ममता जयकिशोर ने बीजेपी सांसद सत्यपाल सिंह पर अपहरण कराकर बीजेपी जॉइन करवाने का आरोप लगाया। साथ ही, ममता जयकिशोर ने आरएलडी के सिंबल पर अपना नामांकन दाखिल कर दिया। वहीं, अब ममता के आरएलडी से नामांकन के बाद बीजेपी का निर्विरोध चुने जाने का गणित बिगड़ा गया है। ऐसे में बागपत में बीजेपी से बबली और आरएलडी से ममता जय किशोर के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिलेगी।

ये भी पढ़ें:- जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए नामांकन आज से, 3 जुलाई को होगी वोटिंग, जानिए पूरा कार्यक्रमये भी पढ़ें:- जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए नामांकन आज से, 3 जुलाई को होगी वोटिंग, जानिए पूरा कार्यक्रम

बता दें, जिला पंचायत सदस्य चुनाव में भाजपा के 20 में से चार प्रत्याशी ही जीते थे। अध्यक्ष पद अनुसूचित जाति की महिला के लिए आरक्षित है। रालोद से ममता जयकिशोर और सपा से बबली देवी ही इस वर्ग से जीती थीं। भाजपा के पास अध्यक्ष पद का प्रत्याशी भी नहीं था। कुछ दिन पहले सपा की बबली देवी भाजपा में शामिल हो गईं थीं।

English summary
Mamta Kishor returned to RLD only a few hours after joining BJP
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X