• search
अमरोहा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

गैंगरेप के मुकदमे से बचने के अंकित ने रची खौफनाक साजिश, पीड़िता के परिवार को फंसाने के लिए किया बहन का मर्डर

|

Neha Chaudhary Murder Case, अमरोहा। आठ फरवरी को एमबीए की छात्रा नेहा चौधरी हत्याकांड का पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया। पुलिस ने नेहा चौधरी की हत्या के आरोप में उसके सगे छोटे भाई को अंकित चौधरी को गिरफ्तार कर लिया है। हत्याकांड का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि अंकित ने अपनी बहन नेहा चौधरी की हत्या सिर्फ इसलिए की थी क्योंकि वो गैंगरेप के एक मामले में फंसा हुआ था।

Neha Chaudhary murder case revealed by Amroha police, younger brother arrested

पुलिस ने बताया कि अंकित खुद को बचाना चाहता था और गैंगरेप पीड़िता के परिवार को हत्याकांड में फसाना चाहता था। इसलिए साजिश के तहत अंकित ने अपनी बहन नेहा चौधरी की हत्या कर दी। ताकि वो हत्या के मामले में पीड़िता के परिवार को फंसाकर समझौते का दबाव बना सके। फिलहाल पुलिस ने असली आरोपी अंकित चौधरी को गिरफ्तार कर लिया है। उसकी निशानदेही पर झाड़ियों से खून में सने कपड़े, जूते और टोपी बरामद की हैं।

क्या है पूरा मामला
आठ फरवरी को एमबीए की छात्रा नेहा चौधरी की ईंट से कुचल कर बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। छात्रा का शव एक स्कूल के पास खून से लथपथ पड़ा मिला था। छात्रा के गले पर भी निशान मिले थे, जिससे आशंका जताई जा रही है कि छात्रा का गला भी घोंटा गया है। वहीं, पुलिस को मौके से खून से सनी एक ईंट भी बरामद हुई थी। मौके से दो फोन, वोटर आईडी और बैग बरामद हुए थे। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्‍टमॉर्टम के लिए भेज दिया था।

शाम को घर पहुंचने की बात कही थी नेहा ने
मृतका की शिनाख्त के बाद परिजनों को सूचना दी गई। मृतका की मां और भाई मौके पर पहुंचे। परिजनों ने पुलिस को बताया कि छात्रा मेरठ स्थित एक कॉलेज में एमबीए द्वितीय वर्ष की पढ़ाई कर रही थी। पढ़ाई के साथ-साथ वह नोएडा में एक निजी कंपनी में नौकरी भी करती थी। रविवार (07 फरवरी) की दोपहर उससे बात हुई थी, उसने शाम तक घर पहुंचने की बात बताई थी। इसके बाद उससे कोई संपर्क नहीं हो सका। रातभर इंतजार के बाद सुबह पुलिस के फोन पर बेटी की हत्या का पता चला।

सीडीआर से मिली महत्वपूर्ण जानकारी
एसपी सुनीति ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि नेहा चौधरी से संबंधित लोगों के फोन कॉल की जांच शुरू की गई। फॉरेंसिक टीम से लेकर सीडीआर टीम को इस हत्याकांड के शीघ्र खुलासे के लिए एक्टिव किया गया। जिसके बाद पुलिस को नेहा चौधरी के मोबाइल की सीडीआर से महत्‍वपूर्ण जानकारी मिली। जानकारी और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर देहात थाना पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने नेहा चौधरी के भाई को गिरफ्तार कर लिया।

कड़ाई से पूछताछ में टूटा अंकित
एसपी ने बताया कि अंकित को गिरफ्तार कर उससे कड़ाई से पूछताछ की गई। जिसमें वो टूट गया और उसने सारा राज उगल दिया। अंकित ने पुलिस पूछताछ में बताया कि गैंगरेप का केस दर्ज होने के बाद वह परेशान था। वह इस मामले से किसी तरह छुटकारा पाना चाहता था। इसी वजह से उसने अपनी बहन की हत्‍या की साजिश रची और उसे मौत के घाट उतार दिया। उसका इरादा गैंगरेप के मुकदमे के वादी पक्ष के लोगों को फंसाकर अपने ऊपर लगे मुकदमे में समझौता करने का दबाव बनाने का था।

अंकित पर दर्ज था गैंगरेप का मुकदमा
एसपी अमरोहा ने बताया कि आरोपी अंकित चौधरी के खिलाफ 29 जनवरी को थाना डिडौली क्षेत्र इलाके की दलित नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप के मामले में एफआईआर दर्ज हुई थी। जिसमें वह फरार चल रहा था। खुद को बचाने के लिए उसने अपनी बहन की हत्या की साजिश रच डाली।

ये भी पढ़ें:- Lucknow: ठाकुरगंज थाने पहुंची युवती, बोली- मेरी पत्नी को उसके परिजनों ने बना लिया है बंधक, उसे मुक्त कवा दोंये भी पढ़ें:- Lucknow: ठाकुरगंज थाने पहुंची युवती, बोली- मेरी पत्नी को उसके परिजनों ने बना लिया है बंधक, उसे मुक्त कवा दों

English summary
Neha Chaudhary murder case revealed by Amroha police, younger brother arrested
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X