• search
इलाहाबाद / प्रयागराज न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

BJP MP बृज भूषण सिंह व कांग्रेस के पूर्व सांसद विनय पांडेय के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी

|

Prayagraj news, प्रयागराज। उत्तर प्रदेश के प्रयागराज स्थित सांसद विधायक स्पेशल कोर्ट ने भाजपा सांसद बृज भूषण सिंह व कांग्रेस के पूर्व सांसद विनय कुमार पांडेय के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। दोनों नेताओं को अलग-अलग मामले में वारंट जारी किया गया है और अगली सुनवाई पर कोर्ट में पेश होने को कहा गया है। बता दें कि बृज भूषण सिंह ने इस बार लोकसभा चुनाव में बड़ी जीत दर्ज की थी और 2 लाख से अधिक वोटों से बसपा के चंद्रदेव यादव को हराकर चर्चा में आए थे। हालांकि, उनके विरूद्ध धारा 144 तोड़ने समेत आचार संहिता उल्लंघन का मामला 5 साल पहले अयोध्या में दर्ज किया गया था। जिसमें उनके विरूद्ध अब गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है। हालांकि, संसद सत्र के दौरान सांसद बृज भूषण सिंह का वारंट स्थगित रहेगा।

क्या है बृज भूषण सिंह का मामला

क्या है बृज भूषण सिंह का मामला

एमपी एमएलए स्पेशल कोर्ट में आई पत्रावली के अनुसार, 21 मार्च 2014 को अयोध्या के राम जन्मभूमि थाने में बृजभूषण सिंह के खिलाफ कानून का उल्लंघन व आचार संहिता आदि तोड़ने का मुकदमा दर्ज किया गया था। उन पर आरोप था कि इलाके में धारा 144 लागू थी। उसके बावजूद भी बृजभूषण सिंह ने बिना अनुमति के वाहन का जुलूस निकाला और वाहनों पर झंडा बैनर लगा कर चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन किया। निषेधाज्ञा तोड़ने और आचार संहिता के इस मामले में मुकदमा दर्ज होने के बाद पुलिस चार्जसीट दाखिल कर दी थी और यह मुकदमा अब सुनवाई के लिए स्पेशल कोर्ट आया हुआ है। जहां कैसरगंज के भाजपा सांसद बृजभूषण सिंह के सुनवाई के दौरान हाजिर न होने पर उनके विरूद्ध गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है। कोर्ट के आदेश के अनुसार संसद सत्र चलने के दौरान यह वारंट स्वत: ही स्थगित रहेगा।

पूर्व मंत्री विनय पांडेय का मामला

पूर्व मंत्री विनय पांडेय का मामला

स्पेशल कोर्ट में चल रहे मुकदमे के अनुसार, सन 2007 में 24 अप्रैल को बलरामपुर के कोतवाली देहात थाने में एक मंदिर के पुजारी फक्कड़ दास ने विनय पांडेय आदि पर मुकदमा दर्ज कराया था। इन पर आरोप था कि विनय पांडेय ने अपने 40 साथियों के साथ मंदिर पर हमला बोला था और जमकर उपद्रव मचाया था। आरोप था कि फक्कड़ दास को बेरहमी से पीटा गया और उसके हाथ पैर तोड़ डाले गये थे, मरा हुआ समझ कर उसे वहीं छोड़कर हमलावर वापस चले गए। हालांकि, जाते-जाते हमलावरों ने मंदिर में भी लूट पाट की और वहां का सारा सामान उठा ले गए। इस मामले में विनय पांडेय समेत 40 लोगों के विरूद्ध गंभीर धाराओं में मुकदमा लिखा गया था। जिसमें उनके विरूद्ध स्पेशल कोर्ट ने वारंट जारी किया है।

3 अगस्त को कोर्ट में होना होगा पेश

3 अगस्त को कोर्ट में होना होगा पेश

गौरतलब है कि बलरामपुर के घुगुलपुर के रहने वाले विनय पांडेय 2014 में श्रवस्ती लोकसभा सीट से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े थे, लेकिन वहां बुरी तरह हारे थे। हालांकि, 2009 में वह कांग्रेस के ही टिकट पर यहां से सांसद चुने गए थे। इस मामले की अगली सुनवाई 3 अगस्त को होगी और विनय पांडेय को इसी दिन हाजिर होना होगा।

ये भी पढ़ें: मायावती के ऐलान और सपा-बसपा गठबंधन टूटने पर क्या बोले आजम खान?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
arrest warrant issued against bjp mp brij bhushan singh
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X