• search
अहमदाबाद न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

केम छो ट्रंप: अहमदाबाद में दुनिया देखेगी मोदी-ट्रंप की जुगलबंदी, आगे की सीटों पर बैठेंगे मुस्लिम

|

अहमदाबाद. इस महीने भारत आ रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के अहमदाबाद दौरे को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं। अहमदाबाद के मोटेरा स्थित दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में ट्रंप के स्वागत के लिए 'केम छो ट्रम्प' कार्यक्रम होगा। ट्रंप और प्रधानमंत्री मोदी दोनों नव-निर्मित सरदार पटेल मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन भी करेंगे। 'केम छो ट्रम्प' कार्यक्रम की सुरक्षा व्यवस्था के लिए मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम को कड़े सुरक्षा घेरे में ले लिया गया है। यहां 300 पुलिस जवान और अधिकारी तैनात किए गए हैं। 24 से 28 फरवरी के बीच 'केम छो ट्रम्प' किसी भी दिन की दोपहर को होगा, जो कि 1:30 से 2 घंटे का हो सकता है। एनएसजी-एसपीजी की टीमें दुनिया की सबसे ताकतवर दो शख्सियतों के सुरक्षा कवच का हिस्सा होंगी। साथ ही अमेरिकन सुरक्षा एजेंसी और स्पेशल कमांडो भी तैनात रहेंगे।

भारतीय-अमेरिकी सुरक्षा एजेंसियां संभाल रहीं मोर्चा

भारतीय-अमेरिकी सुरक्षा एजेंसियां संभाल रहीं मोर्चा

प्रधानमंत्री मोदी और ट्रंप के कार्यक्रम में एक लाख लोग शामिल हो सकते हैं। इस​के लिए, छात्र-छात्राओं से लेकर बिजनेसमैन, एनआरआई एवं नेताओं को आमंत्रित किया जा रहा है। साथ ही शहर-राज्य के बाहर से भी सुरक्षाबल-अधिकारी आएंगे। अहमदाबाद के अलग-अलग हिस्सों में होटलों की बुकिंग भी की जा रही हैं। यह जिम्मेदारी संबंधित थानों को सौंपी जा रही है। खास बात यह है कि, अमेरिका की एफबीआई, एनएसजी, एसपीजी और गुजरात पुलिस समेत सुरक्षा एजेंसियों के कई दस्ते सुरक्षा इंतजाम संभालेंगे।

मुस्लिम समुदाय को अंग्रिम पंक्ति में मिलेगी जगह

मुस्लिम समुदाय को अंग्रिम पंक्ति में मिलेगी जगह

उच्चाधिकारियों के अनुसार, ‘हाउडी मोदी' की तर्ज पर आयोजित होने वाले ‘केम छो ट्रंप' कार्यक्रम में बड़ी संख्या में अल्पसंख्यकों के पहुंचने के आसार हैं। कई अल्पसंख्यक ‘हाउडी मोदी' के दौरान ह्यूस्टन में भी शामिल हुए थे। अब ‘केम छो ट्रंप' के दौरान मुस्लिम-बाेहरा समुदाय के आमंत्रितों को अग्रिम पंक्ति में जगह मिलेगी। भारत के साथ ही अमेरिका, अरब-यूएई एवं अन्य मुल्कों से मुस्लिम अहमदाबाद आएंगे। जिनमें अल्पसंख्यक समुदाय के उद्योगपति एवं अन्य काराेबारी भी शामिल होंगे। मुस्लिम समुदाय मोदी-ट्रंप का अभिवादन करते हुए नजर आएगा।

ऐसा माना जा रहा है कि, इस कार्यक्रम में अल्पसंख्यकों की मौजूदगी सशक्त-भारत की छवि को दर्शाने का काम करेगी।

साबरमती आश्रम भी जा सकते हैं अमेरिकी राष्ट्रपति

साबरमती आश्रम भी जा सकते हैं अमेरिकी राष्ट्रपति

‘केम छो ट्रम्प' के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति साबरमती आश्रम भी जा सकते हैं। जहां से वह साबरमती रिवरफ्रंट देखेंगे। साथ ही यहां मेकिंग ऑफ महात्मा और आयरनमैन की झांकी भी दिखेगी। भारतीय विदेश मंत्रालय की ओर से आयोजित कार्यक्रम में गुजरात का गरबा, पंजाब का भांगड़ा, मणिपुरी, कुचिपुड़ी और भारतनाट्यम की प्रस्तुति भी दी जा सकती हैं। जिसमें बॉलीवुड के कलाकार भी हिस्सा लेंगे।

पहली बार कोई अमेरिकी राष्ट्रपति गुजरात आएगा

पहली बार कोई अमेरिकी राष्ट्रपति गुजरात आएगा

संवाददाता के अनुसार, उच्च पदस्थ आधिकारिक सूत्रों ने पुष्टि की है कि अमेरिकी राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त रूप से रैली करने के बाद अहमदाबाद के मोटेरा में 800 करोड़ रुपये की लागत से बने क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन करेंगे। संभावना है कि, ‘केम छो ट्रम्प' कार्यक्रम 24 से 28 फरवरी के बीच होगा। और, गुजरात के इतिहास में यह पहली बार है कि कोई अमेरिकी राष्ट्रपति यहां का दौरा करेंगे।

मोदी-ट्रंप ही करेंगे सबसे बड़े स्टेडियम का उद्घाटन

मोदी-ट्रंप ही करेंगे सबसे बड़े स्टेडियम का उद्घाटन

गुजरात सीएमओ से प्राप्त जानकारी के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी औऱ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प दोनों ही अहमदाबाद में मोटेरा स्थित दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन करेंगे। इसलिए, राज्य सरकार औऱ बीसीसीआई द्वारा मोटेरा स्टेडियम को सजाने के लिये जोरों पर तैयारियां चल रही हैं।

दिल्ली से आदेश मिले तो जुटे अधिकारी

दिल्ली से आदेश मिले तो जुटे अधिकारी

नई दिल्ली से निर्देश मिलने के बाद, गुजरात के मुख्य सचिव अनिल मुकीम, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव कैलाशनाथन, अहमदाबाद के नगर आयुक्त विजय नेहरा और अन्य अधिकारियों की मेजबान टीम ने क्रिकेट मैदान का निरीक्षण किया और तैयारियों को शुरू करने के लिए वहां एक बैठक भी की। बीसीसीआई के सचिव जय शाह और गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन (जीसीए) के उपाध्यक्ष धनराज नाथवानी भी बैठक में उपस्थित थे। अमित शाह जीसीए के अध्यक्ष हैं।

वहीं, पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा, अहमदाबाद पुलिस आयुक्त आशीष भाटिया, विशेष पुलिस आयुक्त (अपराध शाखा) और वरिष्ठ खुफिया ब्यूरो के अधिकारियों सहित पुलिस अधिकारियों की एक टीम भी सुरक्षा संबंधी निरीक्षण के लिए मोटेरा स्टेडियम पहुंची।

इन देशों के राष्ट्रध्यक्ष भी आ चुके हैं गुजरात

इन देशों के राष्ट्रध्यक्ष भी आ चुके हैं गुजरात

राष्ट्रपति ट्रम्प से पहले चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग, जापान के प्रधान मंत्री शिंजो अबे और इजरायल के बेंजामिन नेतन्याहू भी गुजरात आ चुके हैं। इन सभी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ कार्यक्रमों में हिस्सा लिया। अब यदि ट्रंप अहमदाबाद आते हैं, तो गुजरात पहली बार किसी अमेरिकी राष्ट्रपति के स्वागत के लिये यजमान बनेगा।

800 करोड़ की लागत से बना है मोटेरा स्टेडियम

800 करोड़ की लागत से बना है मोटेरा स्टेडियम

अहमदाबाद में मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम 800 करोड़ रुपये की लागत से बना है। यह क्रिकेट स्टेडियम दुनिया का सबसे बडा स्टेडियम है। यह आॅस्ट्रेलिया के मेलबोर्न स्टेडियम से भी बडा है। भारत में अब तक सबसे बडा स्टेडियम कोलकता का ईडन गार्डन था, जहां दर्शकों की बैठने की क्षमता 62000 सीटों की है, मेलबोर्न में भी सीटों की क्षमता 95000 है, लेकिन मोटेरा स्टेडियम में सीटों की संख्या 1 लाख रखी गई है। मोटेरा स्टेडियम में 3,000 कार और 10,000 दोपहिया वाहनों को पार्क करने जितना क्षेत्र भी है।

अमेरिकी राष्ट्रपति के अहमदाबाद दौरे पर लगी मुहर, 1 लाख लोगों की मौजूदगी में होगा 'केम छो ट्रम्प'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
“Kem Cho Trump” program Will be held between 24 to 28 February, know what's-up right now at ahmedabad
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more
X