• search
अहमदाबाद न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

'अरेस्ट नहीं हुई तो ट्रंप के आने तक अनशन पर बैठी रहूंगी', झुग्गी बस्ती छुपाने के विरोध में ज्वाला अश्वथी

|
Google Oneindia News

अहमदाबाद. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के रोड शो के लिए अहमदाबाद में सड़क किनारे बनी दीवार का कई सामाजिक संस्था विरोध कर रही हैं। यहां 'ज्वाला फाउंडेशन' की संस्थापक एवं सामाजिक कार्यकर्ता अश्वथी ज्वाला अपने साथियों के साथ केरल से आकर धरना दे रही हैं। अश्वथी ज्वाला का कहना है कि, सरकार-प्रशासन द्वारा झुग्गी बस्ती छुपाने के लिए बनाई गई दीवार आमजन के साथ अन्याय है। इस हरकत का विरोध किया जाएगा। दीवार बनाने से तो अच्छा होता, सरकार उन गरीबों के पक्के मकान बनवा देती। गरीबी को इस तरह नहीं छुपाना चाहिए, बल्कि विकास के जरिए गरीबी को मिटाने का काम किया जाए।

ahead of trump ahmedabad visit, kerala social worker Aswathy Jwala on hunger strike

अश्वथी ज्वाला ने कहा, 'हम और हमारी संस्था पीड़ित लोगों के साथ हैं। हम उनके हक में आवाज उठाएंगे। यदि मुझे गिरफ्तार नहीं किया गया, तो ट्रंप के आने तक मैं अनशन पर बैठी रहूंगी।' ऐसे में ज्वाला बीते कई दिनों से भूख हड़ताल पर हैं। उनका 'ज्वाला फाउंडेशन' विस्थापितों और बुजुर्गों को भोजन और आश्रय देने की दिशा में काम करता है। अहमदाबाद के संदर्भ में अश्वथी ने मांग की, कि जो लोग दशकों से झोपड़पट्टी में रह रहे हैं उनका पुनर्वास हो और सरकार द्वारा आवास मुहैया कराए जाएं। इस दौरान जब उनसे केरल से गुजरात आने का कारण पूछा तो उन्होंने कहा, 'ये मेरी मानवता है।'

ज्वाला यहां अहमदाबाद नगर निगम (एएमसी) के अधिकारियों को आड़े हाथों ले रही हैं। एएमसी की ओर से ही, उक्त इलाके में 600 मीटर लंबी दीवार का निर्माण कराया गया है। अधिकारियों के तर्क हैं सड़क के सौंदर्यीकरण अभियान के तहत दीवार का निर्माण कराया गया है। वहीं, इस पर ज्वाला कह रही हैं कि, इस तरह झोपड़ियों को छिपाने के बजाय अधिकारियों और सरकारों को देश को बेहतर बनाने का काम करना चाहिए। क्यों ना गरीबी मिटाने का काम किया जाए ताकि झुग्गी-झोपड़ियों को छिपाने की जररुत ही ना पड़े और ना ही इन्हें बनाने की जरुरत पड़े।'

अहमदाबाद नगर निगम (एएमसी) द्वारा बीते मंगलवार को मोटेरा स्टेडियम के समीप मौजूद झोपड़ियों को भी हटाने की कवायद शुरू कर दी। इन झोपड़ियों में रह रहे कम से कम 45 परिवारों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की 24 फरवरी को निर्धारित यात्रा से पहले उस जगह को खाली करने का नोटिस दिया गया।

'गरीब मां का बेटा ही गरीबों के घर छुपा रहा है', दीवार पर ​जिग्नेश मेवाणी ने PM मोदी को घेरा'गरीब मां का बेटा ही गरीबों के घर छुपा रहा है', दीवार पर ​जिग्नेश मेवाणी ने PM मोदी को घेरा

English summary
ahead of trump ahmedabad visit, kerala social worker Aswathy Jwala on hunger strike
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X