• search
अहमदाबाद न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

आदिवासी लड़के को प्रेम करने का अधिकार नहीं है? नोट में ये बातें लिख छात्र ने लगाई फांसी

|

अहमदाबाद। गुजरात के वल्लभ विद्यानगर में एक युवक ने कॉलेज के हॉस्टल में फांसी लगाकर जान दे दी शव के पास से एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें लिखा है, क्या आदिवासी लड़के को प्रेम करने का अधिकार नहीं है? मृतक युवक की पहचान 24 साल के विपुल मनुभाई वसावा के रूप में हुई है। वह वल्लभ विद्यानगर स्थित सरदार पटेल यूनिवर्सिटी के बॉयज हॉस्टल में रहता था। युवक इकोनॉमिक्स सेंकेंड ईयर का छात्र था।

24 year old student ends his life after betrayal in love in gujarat

जानकारी के मुताबिक, आदिवासी जाति के विपुल को ऊंची जाति की युवति से प्यार हो गया था।युवति भी विपुल को प्यार करने लगी थी, लेकिन उसकी जाती के बारे में जानकर युवति ने उसके साथ संबंध तोड़ लिया। दुखी होकर विपुल ने आत्महत्या कर ली। बेटे द्वारा अचानक उठाए गए इस कदम से परिजनों में मातम फैल गया है।

सुसाइड नोट में विपुल ने अपने माता-पिता के लिए लिखा, 'मुझे माफ करना मैं अपनी जिंदगी से हार चुका हूं। मैं प्रेमिका के बगैर नहीं जी सकता ये वो भी जानती है। क्या वसावा को प्यार करने का अधिकार नहीं है? मैं वसावा हूं ये जानते हुए उसने मुझे प्यार किया। साथ ही परिजन नहीं माने तो भी साथ निभाने का वादा किया था, लेकिन अब समय आने पर उसने कहा कि मुझे भूल जाओ। आप उसके घर जाना और उसके मां-बाप को पूछना कि क्या वसावा इंसान नहीं होते है? उसको प्यार करने का अधिकार क्यों नहीं होता?' विपुल ने सुसाइड नोट में अपने माता-पिता का ख्याल रखने की बात लिखी है। बहरहाल पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

'जिगोलो बनोगे', महिला ने फेसबुक पर दिया ऑफर और टीचर से करवाया ये सब'जिगोलो बनोगे', महिला ने फेसबुक पर दिया ऑफर और टीचर से करवाया ये सब

English summary
24 year old student ends his life after betrayal in love in gujarat
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X