• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जेल में हर रोज 25 से 40 रूपये तक कमायेंगे संजय दत्‍त

|

मुंबई। इसे वक्‍त का ही फेर कहा जाएगा कि एक फिल्‍म के लिए बतौर मेहनताना करोड़ों रूपये लेने वाले संजय दत्‍त अब जेल में हर रोज मात्र 25 से 40 रूपये कमायेंगे। यरवदा जेल के एक अधिकारी का कहना है कि पिछली बार जब संजय जेल में आये थे तो उन्‍हें यहां लकड़ी की कुर्सियां बनाने का काम दिया गया था, लेकिन इस बार वह पेपर बाइं‍डिंग और फाइलें बनाने का काम करेंगे। उनका अच्‍छा व्‍यवहार होने पर उन्‍हें बतौर इनाम कुछ और पैसे भी दिये जा सकते हैं।

अधिकारियों ने बताया कि संजय ने जेल जाने से पहले अपनी जान को खतरा होने की बात की थी। जिससे कि उन्‍हें अलग ही सेल में कड़ी सुरक्षा के बीच रखा जायेगा। उन्‍हें अन्‍य कैदियों के साथ काम नहीं करने दिया जाएगा। उनके द्वारा पिछली बार जेल में बनाई गयी कुर्सी को नीलाम किया गया था। जेल के नियमों के अनुसार कैदियों द्वारा बनाये गये उत्‍पाद को अन्‍य राज्‍यों की सरकारों को बेचा जाता है या फिर उसकी नीलामी करवाई जाती है।

गौरतलब है‍ कि संजय दत्‍त को अवैध रूप से हथियार रखने का दोषी करार दिया गया था। जिसके कारण उन्‍हें पांच साल की सजा दी गई। अब वह बाकी बची सजा की मियाद पूरी करने के लिए यरवदा जेल में हैं। जिसके तहत हर कैदी को सजा के दौरान काम दिया जाता है। संजय दत्‍त को कुछ दिन आर्थर रोड जेल में रखा गया था लेकिन बाद में उन्‍हें सुरक्षा कारणों से यरवदा जेल शिफ्ट कर दिया गया है।

(देखें- क्‍या कहते हैं संजय दत्‍त के सितारें, क्‍या वह जल्‍द जेल से वापस आ सकेंगे।)

संजय दत्‍त पर आंतकवादी के आरोप होने का टाडा कोर्ट में केस चल रहा था, लेकिन अदालत ने उन्‍हें आतंकवाद के आरोप से मुक्ति दे दी। लेकिन उन्‍हें अवैध रूप से हथियार रखने के कारण जेल जाने की सजा सुनाई गयी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Is Bollywood actor Sanjay Dutt not secured inside Yerwada Jail in Pune? According to media reports, the star has been assigned task of making paper files and doing paper-binding work.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X