• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

संजय दत्‍त के बाद जैबुन्निसा के लिये माफी मांग रहे हैं काटजू

|

PCI chairperson Justice Markandey Katju
नयी दिल्‍ली (ब्‍यूरो)। भारतीय प्रेस परिषद के अध्यक्ष मरकंडेय काटजू ने मुंबई सीरियल बम विस्फोट मामले में एक अन्य दोषी जैबुन्निसा के लिए भी क्षमादान मांगा है। इससे पहले काटजू इसी मामले में अभिनेता संजय दत्त के लिए क्षमादान मांग चुके हैं। सर्वोच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश काटजू ने कहा कि वह राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और महाराष्ट्र के राज्यपाल के शंकरनारायण से जैबुन्निसा काजी को मानवीय आधार पर माफ करने के लिए पत्र लिखेंगे।

काटजू ने अपने ब्लॉग पर लिखा है, जैबुन्निसा काजी भी क्षमादान की हकदार है। मैं पहले उसके मामले की सुनवाई कर चुका हूं तथा उसके मामले पर न्यायालय के फैसले को देखते हुए मेरा स्पष्ट विचार है कि वह भी माफी की हकदार है। काटजू ने आगे लिखा है, मैंने जैबुन्निसा तथा संजय दत्त की माफी के लिए राष्ट्रपति के साथ-साथ महाराष्ट्र के राज्यपाल से अपील करने का निर्णय लिया है।

दो दिन पहले काटजू ने कहा था कि उन्हें जैबुन्निसा की बेटी शगुफ्ता का मेल मिला था, जिसमें उसने अपनी मां के लिए भी क्षमादान की अपील करने के लिए कहा था। मुंबई में 1993 में हुए बम विस्फोट मामले में जैबुन्निसा भी अभिनेता संजय दत्त की ही तरह गैर कानूनी हथियार रखने की दोषी ठहराई गई है, और उसे भी पांच वर्षो के कारावास की सजा हुई है।

संजय दत्त के लिए माफी की अपील को लेकर आलोचना किए जाने पर काटजू ने कहा, कुछ लोगों का कहना है कि इस तरह तो दूसरे लोग भी माफी की मांग करने लगेंगे। इस पर मेरा जवाब यह है कि मेरे सामने जो भी मामला आएगा, मैं उसपर विचार करूंगा। (आईएएनएस)

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
After seeking pardon for Sanjay Dutt convicted in a 1993 Mumbai blast case, PCI chairperson Justice Markandey Katju said he would now appeal to the President to grant pardon to another convict Zaibunissa.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X