• search
हरियाणा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

गीतिका से दूरी बर्दाश्‍त नहीं थी इसलिये किया सारा कांड: कांडा

|

Geetika suicide :Gopal Kanda says he was obsessed and wanted Geetika to live with him
नयी दिल्‍ली (ब्‍यूरो)। पूर्व एयर होस्‍टेस गीतिका शर्मा सुसाइड केस में एमडीएलआर एयरलाइंस के चेयरमैन और हरियाणा राज्‍य मंत्री गोपाल कांडा ने कई अहम खुलासे किये हैं। गोपाल कांडा ने पुलिसिया पूछताछ में कहा है कि वह नहीं चाहता था कि गीतिका उससे दूर हो, लिहाजा उसने सारे हथकंडे अपनाए जिससे गीतिका को दूर जाने से रोका जा सके। कांडा ने पुलिस को बताया कि गीतिका बेहद ही खूबसूरत थी इसलिये उसने ही उसे अपने बोर्ड मेंबर्स में उसे नौकरी पर रखने को कहा था ताकि वह हमेशा उसके करीब रह सके।

हालांकि वह उस वक्त 18 वर्ष की नहीं हुई थी, इसलिए उसको ट्रेनी केबिन क्रू मैंबर बनाया गया। छह माह बाद उसको सीनियर केबिन क्रू मैंबर बना दिया गया। कांडा ने कोर्ट में यह भी माना कि उसने अपने दिए बयान पर सिग्नेचर करने से भी मना कर दिया था। गोपाल कांडा ने पुलिस और कोर्ट के समक्ष कई सारे खुलासे किये हैं जिनसे इस मामले की तस्वीर काफी हद तक साफ होती दिखाई दे रही है। कांडा पर लगे आरोप भी उसके बयान से सही नजर आ रहे हैं। कांडा ने अपने बयान में कहा है कि उसने गीतिका को हर शाम उसे रिपोर्ट करने का आदेश दिया था। इसी दौरान वह गीतिका के बेहद करीब आ गया था।

लेकिन जब एमडीएलआर कंपनी बंद हुई और गीतिका दूसरी कंपनी का रुख करने लगी तो उसने ही कंपनी से गीतिका के पेपर न लौटाने का आदेश दिया था। क्योंकि वह नहीं चाहता था कि गीतिका उससे अलग हो। उसको रोकने के लिए कांडा ने गीतिका की न सिर्फ सैलरी बढ़ा दी बल्कि उसको कंपनी में बड़ा औहदा भी दे दिया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Former Haryana minister Gopal Goyal Kanda, facing charges of abetting the suicide of former airhostess Geetika Sharma, has confessed to the police that he used his “position and other resources” to intimidate her because he was obsessed and wanted her to live with him.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more
X