• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

चंबल की एक और दस्‍यु सुंदरी राजनीति में आने को बेताब

|

Bandit Queen Renu Yadav all set to join Politics
लखनऊ। सबसे पहले फूलन देवी फिर सीमा परिहार और अब रेणु यादव, जी हां चंबल की बिहड़ में जिंदगी गुजाराने वाली एक और दस्‍यु सुंदरी रेणु यादव राजनीति में आने को बेताब है। उनकी इस बेताबी को समाजवादी पार्टी ने हवा भी दे दिया है। यह सिर्फ चर्चा ही नहीं बल्कि सच है क्‍योंकि रेणु यादव सपा में शामिल होने के लिये मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव और पीडब्‍लूडी मंत्री शिवपाल सिंह यादव से कई बार मुलाकात कर चुकी हैं। रेणु यादव का कहना है कि उन्‍होंने कोई अपराध नहीं किया बल्कि चंबल के बीहड़ के कुख्‍यात डकैत चंदन यादव के अधीन रहने के कारण पुलिस ने उनके खिलाफ हत्‍या, अपहरण, और डकैती के करीब दो दर्जन मुकदमें दर्ज किये हैं।

औरैया जनपद की रहने वाली 24 वर्षीय रेणु यादव ने बताया कि 29 नवंबर 2003 को स्‍कूल जाते समय उसका अपहरण कर लिया गया। रेणु बताया कि चंदन यादव गिरोह ने अपहरण किया था। तब वह किशोर थी। रेणु ने बताया कि उसके पिता ने उस समय इसकी शिकायत पुलिस से की थी मगर पुलिस वालों ने कोई कार्रवाई नहीं की। चूंकि रेणु के पिता डकैतों द्वारा मांगी गई फिरौती की रकम नहीं पहुंचा सके, इसलिए उसे मुक्त नहीं किया गया।

बकौल रेणु, 2005 में डकैत चंदन यादव की हत्या उसके दाहिने हाथ रामवीर गुर्जर ने कर दी। इसके बाद उसने मौका पाकर एक दिन रामवीर गुर्जर को गोली मारी और फरार हो गई। बाद में इटावा पुलिस के आगे उसने आत्मसमर्पण कर दिया, लेकिन पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी इटावा के सिविल लाइंस इलाके से दिखाई और उसके साथ एक एसएलआर राइफल की बरामदगी भी दिखाई। सात साल की कैद के बाद रेणु यादव इसी साल मई में लखनऊ के नारी निकेतन से छूटी। अब वह राजनीति में आकर लोगों की सेवा करना चाहती है। रेणु के चाचा शिव सिंह यादव सपा के सदस्य हैं और कानपुर देहात से जिला पंचायत सदस्य भी हैं।

रेणु ने राजनीति में आने के अपने इरादे साफ करते हुए बताया कि वो राजनीति में आने के बाद अपने जैसे तमाम लड़कियों, महिलाओं की सेवा करना चाहती हैं। सूत्रों के अनुसार, रेणु यादव को सपा में जल्द शामिल करने की तैयारी हो रही है। कहा जा रहा है कि शिवपाल यादव अगले माह औरैया में होने वाले कार्यकर्ता सम्मेलन में रेणु को पार्टी में शामिल करने की घोषणा कर सकते हैं। सपा सूत्रों का कहना है कि पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव में रेणु यादव को इटावा के आसपास की किसी लोकसभा सीट से उम्मीदवार के तौर पर उतारने पर भी विचार कर रही है, क्योंकि सहानुभूति के आधार पर उसके चुनाव जीतने की प्रबल सम्भावना है।

मालूम हो कि इससे पहले सपा ने बीहड़ की चर्चित डकैत रही फूलन देवी को पार्टी में शामिल किया था। इसके बाद फूलन मिर्जापुर से सपा के टिकट पर लोकसभा पहुंची थीं। 2009 के संसदीय चुनाव के दौरान सपा ने एक और दस्यु सुंदरी सीमा परिहार को पार्टी में शामिल किया था। उल्लेखनीय है कि कुख्यात डकैत ददुआ के बेटे वीर सिंह भी इस समय सपा के टिकट से चित्रकूट के विधायक हैं, जबकि उसके भाई बाल कुमार पटेल मिर्जापुर से सांसद हैं। पटेल के बेटे राम सिंह भी प्रतापगढ़ की पट्टी विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं।

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Renu Yadav, another Bandit Queen from Chambal is all set to join the mainstream Politics of India. Taking the heritage forward of famous Chambal Valley bandits like Phoolan Devi and Seema Parihar, Renu is also planning to join Samajwadi Party in Uttar Pradesh after spending 7 years in jail.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more