• search
दिल्ली न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

मेट्रो मैन श्रीधरन की विदाई, मंगू सिंह सिंह नये कैप्‍टन

By Super
|

Metro
दिल्ली (ब्यूरो)। दिल्ली की लाइफ लाइन मेट्रो को बनाने वाले मेट्रो मैन डॉ. ई श्रीधरन शनिवार को सेवामुक्त हो गए। अब दिल्ली मेट्रो रेल निगम के प्रबंध निदेशक पद की जिम्मेदारी मंगू सिंह के कंधे पर होगी। अब मेट्रो इन्हीं के निर्देशन पर आगे बढेगी।

26 दिसंबर को मेट्रो की बोर्ड मीटिंग में आखिरी बार शिरकत कर छुट्टी पर गए श्रीधरन शनिवार की शाम चार बजे चेन्नई से दिल्ली पहुंचे। पांच बजे कार से उतर मुख्यालय की लिफ्ट में गए और फिर सीधे अपने चैंबर में पहुंचे। वहां मौजूद श्रीधरन की जिम्मेदारी संभालने वाले मंगू सिंह समेत डीएमआरसी के सभी निदेशक ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। इसके बाद औपचारिक रूप से मेट्रो मैन ने अपनी जिम्मेदारी मंगू सिंह को सौंपी।

उन्हें अपनी सीट पर बिठाया फिर एक कप साथ में चाय पी और चैंबर से निकल गए। वह चैंबर से नीचे निकल मुख्यालय के बाहर आए एक छोटी लड़की (मेट्रो का मॉस्कट) हाथ में फूलों का गुलदस्ता लिए श्रीधरन को दिया और उन्हें शुक्रिया किया। इस पूरी प्रक्रिया को आधे घंटे के भीतर समेटते हुए समय के पाबंद श्रीधरन मुख्यालय से विदा हो गए। कुछ दिनों तक मेट्रो एंक्लेव स्थित निवास में वह रहेंगे जिसके बाद केरल के पालघाट स्थित अपने पैतृक गांव चले जाएंगे।

दिल्ली में 24 दिसंबर 2002 को मेट्रो का परिचालन शुरू हुआ तो करीब आठ साल के भीतर सफलतापूर्वक छह लाइनों (190 किलोमीटर) पर मेट्रो ट्रेन का परिचालन करने में ईश्रीधरन ने महत्वपूर्ण योगदान दिया। मेट्रो के प्रथम व दूसरे चरण का काम पूरा होने के बाद गत वर्ष नवंबर से शुरू हुए तीसरे चरण के तहत लाइन विस्तार का पूरा खाका इन्होंने तैयार किया।

English summary
'Metro Man' E Sreedharan on Saturday handed over the baton to his colleague Mangu Singh after a momentous 16-year tenure as Managing Director of Delhi Metro during which he constructed and spread the network far and wide across the National Capital Region.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X