• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

विमानन कंपनियों को मिलेगा 26 फीसदी एफडीआई

|

airlines
नयी दिल्ली। नागर विमानन मंत्रालय नकदी संकट से जूझ रही भारतीय विमानन कंपनियों में विदेशी कंपनियों को 26 फीसद हिस्सेदारी खरीदने की मंजूरी देने के प्रस्ताव पर सहमत हो गया है। यह बात सूत्रों ने बताई। हालांकि इससे पहले विमानन मंत्रालय ने इस क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) पर 24 फीसद की सीमा तय करने का प्रस्ताव किया था।

एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने कहा वे 26 फीसद एफडीआई पर सहमत हुए। गृह मंत्रालय और योजना आयोग ने विदेशी विमानन कंपनियों को नकदी संकट से जूझ रही भारतीय निजी कंपनियों में 26 फीसद हिस्सेदारी खरीदने को मंजूरी देने के संबंध में तैयार मंत्रिमंडल नोट के मसौदे का समर्थन किया है। वित्त मंत्रालय ने भारतीय निजी विमानन कंपनियों में 26 फीसद को मंजूरी देने के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है बशर्ते ऐसे निवेश से सेबी के अधिग्रहण नियम का उल्लंघन न हो।

डीआईपीपी ने किंगफिशर एयरलाइंस के गंभीर संकट में आने और अन्य कंपनियों के संसाधन संकट के मद्देनजर घरेलू विमानन कंपनियों में 26 फीसद एफडीआई का प्रस्ताव किया था। फिलहाल घरेलू विमानन कंपनियों में 49 फीसद निवेश की मंजूरी है लेकिन विदेशी विमानन कंपनियों पर हिस्सेदारी लेने पर पाबंदी है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The civil aviation ministry has agreed to the proposal of allowing foreign carriers to buy 26% stake in private airlines.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X