• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

संसद चले तो पूरा माहौल सुधर जायेगा: प्रणव मुखर्जी

|

Finance Minister Pranab Mukherjee
दिल्‍ली। वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी ने आज कहा कि महंगाई और विकास से जुडी चिन्ताओं के बावजूद भारतीय अर्थव्यवस्था के आधारभूत तत्व मजबूत हैं और संसद यदि चलती है और महत्वपूर्ण विधेयक पारित होते हैं तो पूरा माहौल सुधरेगा। लोकसभा में 2011-12 के लिए अनुदान की अनुपूरक मांगों (सामान्य) के दूसरे हिस्से को लेकर हुई चर्चा के जवाब में मुखर्जी ने कहा, अर्थव्यवस्था मुश्किल हालत में है लेकिन भारतीय अर्थव्ययवस्था के आधारभूत तत्व अभी भी मजबूत हैं। खुदरा एफडीआई, तेलंगाना, महंगाई सहित विभिन्न मुद्दों पर संसद के शीतकालीन सत्रा की कार्यवाही आज से पहले एक भी दिन नहीं चल पायी और सदस्यों ने जमकर हंगामा किया।

लेकिन 22 नवंबर को शुरू हुए इस सत्र में आज सुचारू रूप से कामकाज हुआ और लोकसभा ने अनुदान की अनुपूरक मांगों को ध्वनिमत से मंजूर किया। 2011-12 के दौरान सरकारी व्यय 56800 करोड रूपये और बढाने के उद्देश्य से ये मांगें रखी गयी थीं। मुखर्जी ने कहा, यदि संस्थाएं मजबूत रहती हैं, यदि संसद चलती है, यदि सदन (विधेयकों पर) चर्चा करता है और पारित करता है तो हालात बेहतर हो सकते हैं, आप देखेंगे कि माहौल बदल गया है। उन्होंने कहा कि मंदी के बावजूद बचत दर और निवेश दर लगभग 33 से 35 प्रतिशत पर मजबूत बनी हुई हैं हालांकि मुद्रास्फीति और राजकोषीय घाटे को लेकर चिन्ताएं जरूर हैं।

मुखर्जी ने कहा कि भारत कई अन्य देशों के मुकाबले अच्छी विकास दर हासिल कर रहा है हालांकि यह नौ प्रतिशत के उंचे स्तर से नीचे आयी है। वित्त मंत्री ने कहा कि दूसरी तिमाही में तुर्की को छोड दुनिया के किसी अन्य उस देश की विकास दर उंची नहीं रही है, जो आकार के मामले में लगभग एक जैसे हैं। भारत ने दूसरी तिमाही में 6.9 प्रतिशत की विकास दर हासिल की। चालू वित्त वर्ष में इसकी विकास दर गिरकर 7.5 प्रतिशत रहने की आशंका है। 2010-11 में यह 8.5 प्रतिशत थी। महंगाई के बारे में मुखर्जी ने कहा कि खाद्य मुद्रास्फीति फरवरी 2010 में 22 प्रतिशत थी जो नवंबर 2011 में गिरकर आठ प्रतिशत रह गयी लेकिन इसे पांच से छह प्रतिशत पर लाने की जरूरत है।

English summary
Finance Minister Pranab Mukherjee today said fundamentals of the Indian economy are strong despite concerns of inflation and growth, and the overall environment will improve significantly if Parliament functions and approves important legislation.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X