• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कार चलाने से महिलाओं का 'कौमार्य भंग'

|

Muslim Woman
नई दिल्ली। क्या कभी आपने सोचा है कि ड्राईविंग और सेक्स का कोई संबध हो सकता है। आप कहेंगे यह मुमकीन नहीं है। लेकिन आपको जानकर हैरत होगी कि सऊदी अरब में ऐसा कहा जा रहा है।

वहां के इस्लामिक विद्धानों का कहना है कि अगर वो महिलाओं को गाड़ी चलाने का अधिकार देते हैं तो महिलाओं का कौमार्य भंग हो जायेगा। क्योंकि उन्हें शादी के पहले संभोग करने की जगह मिल जायेगी। जो कि सही नहीं है। यह देश में कुंवारी दु्ल्हनों के लिए खतरे का सबब है। महिलाएं उग्र हो जायेंगी, अपनी मनमानी करने लगेंगी। इस बात से देश में वेश्यावृति भी बढ़ सकती है जो कि किसी भी देश के लिए अच्छी बात नहीं है।

ऐसे बयान इसलिए आ रहे हैं क्योंकि सऊदी अरब देश में महत्वपूर्ण बदलावों के लिए जिम्मेदार माने जाने वाले धार्मिंक नेता शाह अब्दुल्ला, जो कि सत्ता के गलियारों में काफी उच्च पद रखते है, ने इशारा किया है कि वह महिलाओं के गाड़ी चलाने पर लगे प्रतिबंध को हटा सकते हैं। उनका कहना है कि अगर महिलाओं को ड्राइविंग की अनुमति मिलती है तो उन्हें फालतू में किसी पुरूष ड्राईवर के संपर्क में नहीं आना पड़ेगा, लेकिन विरोधियों का कुछ और ही कहना है।

क्या आपको लगता है कि यह विरोध सही है, अपने विचार नीचे लिखें कमेंट बॉक्स में दर्ज करायें।

English summary
A Saudi rights activist says a report given to a high-level advisory group claims that women in the kingdom will have options for premarital sex if allowed to drive.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X