• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

रिलायंस ने की मुरली मनोहर जोशी से शिकायत

|

RIL writes to Murli Manohar Joshi on CAG report
दिल्ली (ब्यूरो)। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी) की शिकायत पीएसी के मुखिया डा. मुरली मनोहर जोशी से की है। रिलायंस ने इस बाबत जोशी को एक पत्र लिखा है जिसमें उसने कहा है कि सीएजी उसका पक्ष नहीं सुन रहा है। पत्र में कहा गया है कि सीएजी ने अपनी उस रिपोर्ट में कंपनी के जवाब पर विचार नहीं किया, जिसमें कृष्णा-गोदावरी ब्लाक के अनुबंध का उल्लंघन करने के लिए मुकेश अंबानी द्वारा परिचालित कंपनी की आलोचना की गई है।

आरआईएल समूह के अध्यक्ष वी. बालसुब्रह्मण्यम ने जोशी को लिखा भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक ने हमें अपनी मसौदा रपट में अपनी टिप्पणी देखने का मौका नहीं दिया और न ही अंतत: सीएजी ने अपनी रपट में हमारे जवाब को शामिल करने पर विचार किया। उन्होंने परिचालन और तकनीकी दोनों किस्म के तथ्यों को नजरअंदाज किया। सीएजी ने अपनी रपट में कहा था कि आरआइएल ने अनुबंध का उल्लंघन किया और उसे 2001 में धीरूभाई-1 और तीन में गैस मिलने के बाद बंगाल की खाड़ी में अपने केजी-डी6 ब्लाक का 7645 वर्ग किलोमीटर के पूरे क्षेत्र को अपने पास रखने की इजाजत दी गई।

पीएसी सीएजी रपट का परीक्षण कर रही है। छह पन्नों की विस्तृत रपट संलग्न कर आरआईएल ने 26 सितंबर को लिखे पत्र में कहा कि सीएजी ने कंपनी द्वारा इस क्षेत्र का स्वत: परित्याग न करने और इस पूरे क्षेत्र को खोज क्षेत्र के रूप में घोषित करने के लिए उसकी आलोचना कर अदूरदर्शिता का परिचय दिया है।

उधर, एक सप्ताह के अवकाश के बाद सोमवार को उच्चतम न्यायालय में एक बार फिर से 2जी घोटाले की सुनवाई शुरू होने जा रही है। जनता पार्टी के अध्यक्ष सुब्रमण्यम स्वामी की 2जी घोटाले से संबंधित उस याचिका पर सुनवाई होगी, जिसमें उन्होंने पूर्व वित्त मंत्री और वर्तमान में गृहमंत्री पी. चिदंबरम के खिलाफ सीबीआइ जांच की मांग की है। गौरतलब है कि चिदंबरम उस समय वित्त मंत्री थे जब उन्होंने पूर्व संचार मंत्री ए. राजा के साथ मिलकर 2जी स्पेक्ट्रम की कीमत का निर्धारण किया था।

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Mukesh Ambani-run RIL in a letter to Public Accounts Committee (PAC) Chairman Murli Manohar Joshi has said CAG did not consider its response in the report that criticized the company for violation of contract for showpiece KG-D6 block.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more