• search

ढाका विद्रोह की जांच में मदद करेगी स्कॉटलैंड यार्ड (लीड-1)

|

इस बीच ऐसे संकेत मिले हैं कि यह विद्रोह पूर्वनियोजित था। विद्रोह की जांच कर रहे पैनल ने खुलासा किया है कि विद्रोहियों के बारे में कुछ बाहरी लोगों को पता था।

ब्रिटेन के अंतर्राष्ट्रीय विकास मंत्री माइक फॉस्टर ने मंगलवार को कहा कि स्कॉटलैंड यार्ड के दल में चार सदस्य होंगे।

इधर, समाचार पत्र डेली स्टार ने मंगलवार को एक जांचकर्ता के हवाले से लिखा है, "वीडियो फुटेज और तस्वीरों को देखने के बाद हमने पाया है कि विद्रोह में करीब 450 जवान शामिल थे।"

अधिकारी ने कहा कि वे अब गिरफ्तार जवानों से पूछताछ के आधार उन 450 विद्रोहियों की पहचान करने की कोशिश कर रहे हैं।

कम वेतन और काम करने की खराब परिस्थितियों के कारण 25-26 फरवरी को बांग्लादेश के सीमा सुरक्षा बल बीडीआर के जवानों ने विद्रोह कर दिया था।

अधिकारी ने कहा कि वे बांग्लादेश राइफल्स के उन 10-12 जवानों की पहचान कर रहे हैं जिन्होंने 33 घंटे तक चले खूनी खेल में विभिन्न गुटों का नेतृत्व किया।

एक अन्य जांचकर्ता ने कहा, "जांच से पता चला है कि यह नियोजित तरीके से अंजाम दिया गया था। जब विद्रोहियों के एक गुट ने बांग्लादेश राइफल्स के महानिदेशक मेजर जनरल शकील अहमद पर दरबार हॉल में हमला कर उन्हें मार दिया उसी वक्त दूसरा गुट उनके अवास पर हमला कर वहां तैनात दो सुरक्षाकर्मियों को मार दिया।"

जांचकर्ताओं ने कहा कि ड्यूटी चार्ट के जला देने या फिर उसे नष्ट कर देने के कारण उन्हें यह पता करने में दिक्कत हो रही है कि विद्रोह के वक्त बांग्लादेश राइफल्स के मुख्यालय पर कौन जवान तैनात थे और मुख्यालय के अंदर हथियारों से लैस कितने जवान थे।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X