इस वर्ष संभवत गेहूं का आयात नहीं किया जायेगा..अखिलेश

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi
बेंगलूर.08 फरवरी.वार्ता.कृष िएवं खाद्य राज्यमंत्री अखिलेख प्रसाद सिंह ने कहा है कि मौसम के अनुकूल रहने से चालू रबी सीजन के दौरान देश में गेहूं के उत्पादन में बढोतरी की संभावना है और इसे देखते हुए आयात की जरत नहीं पडेगी

श्री प्रसाद ने आज यहां यहां खाद्यान्न पर आयोजित एक सम्मेलन के दौरान संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि गेहूं की फसल के लिहाज से मौसम अच्छा है और इसे देखते हुए पैदावार जोरदार होने की संभावना है 1 फसल अच्छी होने की उम्मीद को देखते हुए उन्होंने कहा कि संभवत गेहूं आयात नहीं करना पडे

गौरतलब है कि छह वर्ष के अंतराल के बाद वर्ष 2006 में घरेलू जरतों को पूरा करने के लिए गेहूं का आयात करना पडा था1 सरकार की तरफ से कल जारी 2007..08 के दूसरे अगि्रम खाद्यान्न उत्पादन के आंकडों में 21 करोड 93 लाख 20 हजार टन के नये रिकार्ड पर पहुंच जाने का अनुमान व्यक्त किया गया है 1 इसमें रबी के दौरान गेहूं की पैदावार सात करोड 48 लाख 10 हजार टन का अनुमान लगाया गया है1 पिछले साल रबी में गेहूं का उत्पादन सात लाख 58 हजार 10 लाख टन हुआ था

सम्मेलन के दौरान भारतीय खाद्य निगम एफसीआई के अध्यक्ष अलोक सिन्हा ने पत्रकारों को बताया कि सितम्बर के अंत में चावल का भंडार पहले की इसी अविध के ढाई करोड टन की तुलना में बढकर दो करोड 65 लाख से दो करोड 75 लाख टन तक पहुंच जायेगा 1 श्री सिन्हा ने कहा कि फिलहाल निगम के पास चावल का भंडार एक करोड 80 लाख टन का है जो पिछले साल के मुकाबले चार लाख टन अधिक है 1 इस वर्ष देश में चावल का उत्पादन नौ करोड 40 लाख 80 हजार टन होने का अनुमान लगाया गया है जो पिछले साल नौ करोड 33 लाख 50 हजार टन था1 इस वर्ष खरीफ के दौरान आठ करोड 15 लाख 20 हजार रबी में एक करोड 25 लाख 60 हजार चावल उत्पादन का अनुमान है

मिश्रा शिशिर रमेश1323वार्ता

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

X