व्यक्तिगत आयकर वसूली में मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ ने बाजी मारी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi
नयी दिल्ली. 05 फरवरी .वार्ता. वर्तमान वित्त वर्ष के दस महीने बीतने पर भी प्रत्यक्ष कर वसूली में 40 प्रतिशत से अधिक की धुआंधार वृद्धि का ख बरकरार है और इसमें भी व्यक्तिगत आयकर वृद्धि के मामले में मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ ने सर्वाधिक वृद्धि दर्ज कराते हुये बाजी मार ली है

अप्रैल 2007 से जनवरी 2008 तक के दस महीनों में देश में कुल मिलाकर 218538 करोड पये की प्रत्यक्ष कर वसूली हुई जो कि पिछले साल इसी अवधि में हुई वसूली से 40.47 प्रतिशत अधिक रही है1 इसमें व्यक्तिगत आयकर वसूली में रिकार्ड 45.45 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई जो कि बढकर 84349 करोड पये तक पहुंच गई1 व्यक्तिगत आयकर वसूली के मामले में मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ के भोपाल क्षेत्र में 393 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गई1 इसके बाद मुंबई क्षेत्र में 55 प्रतिशत. पश्चिम उत्तर प्रदेश में मेरठ क्षेत्र 53 ने प्रतिशत और फिर आंध्र प्रदेश में हैदराबाद क्षेत्र में करीब 50 प्रतिशत तक वृद्धि दर्ज की गई1 कंपनी कर की वसूली में सबसे ज्यादा वृद्धि पूवोत्तर क्षेत्र में 254 प्रतिशत तक रही है1 इसके बाद बिहार.ारखंड क्षेत्र में 75 प्रतिशत तक वृद्धि दर्ज की गई1 केरल और लखनऊ आयकर क्षेत्रों में क्रमश 72 और 71 प्रतिशत तक वृद्धि रही है1 कंपनी कर और आयकर की वसूली सहित प्रत्यक्ष करों की कुल वसूली में मुंबई क्षेत्र 64.26 प्रतिशत की वृद्धि के साथ सबसे आगे रहा है जबकि उत्तरपश्चिम भारत में चंढीगढ क्षेत्र में 48 प्रतिशत वृद्धि के साथ दूसरे नंबर पर रहा है1 इसके बाद पुणे में 44 और बैंगलु में 43 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गई

केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड .सीबीडीटी. द्वारा आज जारी इन आंकडों के मुताबिक दस महीनों में पूरे साल के प्रत्यक्ष कर वसूली के बजट अनुमान का 81 प्रतिशत तक वसूली कर ली गई है1 इस साल के बजट मे प्रत्यक्ष करों से कुल 267490 करोड पये की वसूली का अनुमान लगाया गया है1 दस महीनों में इस अनुमान में से 218538 करोड पये की वसूली कर ली गई है

महाबीर. नंद2032 वार्ता

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

X