डा महेन्द्र मधुप को . आत्माराम पुरस्कार .

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi
नई दिल्ली .18 दिसम्बर. वार्ता . राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने केन्द्रीय हिन्दी संस्थान द्वारा वैज्ञानिक एवं तकनीकी साहित्य तथा उपकरण विकास के लिए एक लाख रुपये की राशि का देश का प्रतिष्टित आत्माराम पुरस्कार राजस्थान के लेखक डा. महेन्द्र मधुप को प्रदान किया 1 राष्ट्रपतिभवन के दरबार हाल में आयोजित भव्य समारोह में उन्हें चैक और प्रशस्ति पत्र प्रदान करते हुए शाल आेढाकर यह सम्मान दिया गया

डा. महेन्द्र मधुप ने मंगलवार को सम्मान ग्रहण करते समय राष्ट्रपति के समक्ष एक लाख रुपये की पुरस्कार राशि राजस्थान के जरुरतमंद किसानों एवं उनके बच्चों की शिक्षा के लिए समर्पित करने की घोषणा की

डा . मधुप मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार के केन्द्रीय हिन्दी संस्थान द्वारा आत्मराम पुरस्कार के तहत प्रदत्त एक लाख रुपये की सम्मान राशि सज्जन . ज्ञान चेरिटेबल ट्रस्ट . के माध्यम से राजस्थान के जरुरतमंद किसानों के मेधावी बच्चों के शिक्षण के लिए खर्च करेंगे

उन्होंने अपनी माता श्रीमती कंवर लोढा एवं पिता स्व श्री ज्ञानमल लोढा के नाम से किसानों एवं बच्चों के विकास के लिए यह ट्रस्ट बनाया है

वह राजस्थान के पहले ऐसे शख्स हैं जिन्हें देश का यह प्रतिष्ठित सम्मान दिया गया है 1 वह पिछले बीस वषो से पत्र पति्रकाओं में सम. सामायिक विषयों पर हिन्दी में साप्ताहिक स्तम्भ लेखन से जुडे होने के साथ ही गत 3 वषो से पुणे से प्रकाशित राष्ट्रीय हिन्दी मासिक शरद कृष ि.. हिन्दी .. के सम्पादक के रुप में भी कृष िमें आधुनिक तकनीक के जरिए उन्नत पैदावार . कृष िव्यवसाय एवं कृषक कल्याण गतिविधियों के प्रोत्साहन का महत्ती कार्य कर रहे हैं

डा . मधुप विगत 48 वषो से इलैक्ट्रानिक एवं पि्रंट मीडिया से भी सम्बद्ध है 1 वर्ष 1980 से 1987 तक उपग्रह दूरदर्शन केन्द्र नई दिल्ली के चौपाल . कार्यक्रम और बाद में राजस्थान में 1987 से दूरदर्शन के आरम्भ के दिनों से ही कृशि सम्बंधी कार्यक्रमों की एंकरिंग एवं प्रसतुति से जुडे डा मधुप ने कृष िएवं कृष िप्रबंधन से सम्बध्द विषयों का इलेक्ट्रानिक एवं पि्रंट मीडिया के जरिए हिन्दी में व्यापक प्रचार. प्रसार ही नहीं किया है बल्कि देश में कृष िपत्रकारिता को नए आयाम देने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है 1 उन्हें इससे पहले कृषि विपणन सुाव . पुरस्कार . जनसंचार का प्रतिष्ठित . माणक अलंकरण . सहित अनेकानेक पुरस्कार एवंसम्मान समय .समय पर मिलते रहे हैं 1 समारोह की अध्यक्षता केन्द्रीय मानक संसाधन विकास मंत्री अर्जुन सिंह ने की 1 इस अवसर पर संस्था के उपाध्यक्ष डा . रामशरण जोशी निदेशक प्रो . शंभुनाथ और दिल्ली केन्द्र के क्षेत्रीय निदेशक प्रो . श्रीशचन्द्र जैसवाल सहित देश . विदेश की जानीमानी हस्तियां मौजूद थीं

अरविंद . रीता प्रेम .145

वार्ता

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.