भारतीय मूल के मलेशियाई नागरिकों को राहत: अब्दुल गनी पटायल

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

Abdul Gani Patailकुआलालंपुर 17 दिसंबर: भारतीय मूल के मलेशियाई नागरिकों को राहत प्रदान करते हुए आज यहां मलेशियाई अब्दुल गनी पटायल ने पिछले महीने गिरफ्तार किए गए उन 31 भारतीय मूल के नागरिकों के विरुद्व लगाये गए हत्या के प्रयास के आरोपों को वापस ले लिया गया, जिन्होंने सरकार विरोधी रैली में हिस्सा लिया था.

इसके अतिरिक्त उन्होंने इस मुस्लिम बहुल देश में हिन्दुओं के अधिकारों के लिए काम कर रहे गैर सरकारी संगठन हिन्दू राइट्स एक्शन फोर्स (हिन्ड्रॉफ) के इन 31 सदस्यों में से 5 छात्रों के विरुद्व लगाए गए सभी आरोपों को वापस ले लिया.
कियांग सेशन्स कोर्ट में उपस्थित इन प्रदर्शनकारियों में से 26 के विरुद्व अभी भी शांतिभंग तथा अवैध सभा आयोजित किये जाने के आरोप बरकरार रखे गए हैं.

उल्लेखनीय है कि मलेशिया की बाटू गुफाओं में स्थित भगवान मुरुगन के मन्दिर के बाहर एक पुलिस सिपाही को कथित रूप से घायल करने के कारण हिन्ड्राफ के इन 31 सदस्यों पर हत्या के प्रयास के आरोप लगाए गए थे, जिसमें इन्हें 20 साल तक की सजा हो सकती थी.

पटायल ने कहा कि वे अत्यधिक सख्त रुख अपना सकते थे लेकिन वे नहीं समझते कि इतना सख्त रुख अपनाने के लिए यह सही समय है, तथा सार्वजनिक तथा राष्ट्रीय हित में उन्हें स्वतंत्र करना सर्वश्रेष्ठ कदम होगा.

इसके बावजूद अभी भी हिन्ड्राफ के 5 नेता विवादास्पद आंतरिक सुरक्षा एक्ट (आइसा) के तहत हिरासत में हैं जिसमें बिना सुनवाई के अनिश्चितकालीन हिरासत संभव है.

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.