तकनीकी शिक्षा के असंतुलन को दूर करने से भारत सुपर पावर बनेगा

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नयी दिल्ली .17 दिसम्बर. वार्ता . मानव संसाधन विकास मंत्री अर्जुन सिंह ने कहा है कि अगर भारत को निकट भविष्य में .सुपर पावर .बनना है तो उसे देश भर में फैली प्रतिभाओं का उचित इस्तेमाल करते हुए अवसर प्रदान करने होंगे

श्री सिंह ने भारत में तकनीकी शिक्षा के विकास पर राष्ट्रीय .सम्मेलन . का उद्घाटन करते हुये यह बात कही 1 श्री सिंह की अनुपस्थिति में उनका भाषण योजना आयोग के सदस्य प्रो बी मंुगेकर ने पढा

श्री सिंह ने कहा किदेश में इंजीनियरिंगकी शिक्षा की डिग्री प्राप्त करने वाले 70 प्रतिशत लोग केवल तमिलनाडु .आंध्र प्रदेश . कर्नाटक और महाराष्ट्र के हैं 1 अगर इस देश में क्षेत्रीय असंतुलन दूर करना है तो देश के सभी लोगों को अच्छी शिक्षा केलिये समान अवसर प्रदान करने होंगे1 उन्होंने कहा कि सरकार तकनीकी शिक्षा की गुणवत्ता को अन्तरराष्ट्रीय स्तर तक बढाने का हर संभव प्रयास कर रही है 1 भारत पिछले दिनों वाशिंगटन समौते का सदस्य बन गया है 1 इस समौते सेइस बात को मान्यता मिलेगी कि हमारी तकनीकी शिक्षा विश्वव्यापी स्तर की है या नहीं 1 प्रो . मुंगेकर ने कहा कि हमारे देश की शिक्षा व्यवस्था कई तरह की समस्याओं से जू रही है 1उसका विस्तार नहीं हो रहा है 1 पाठ्यक्रम आध्य्ातुन नहीं हो रहे हैं 1 स्नातकों को नौकरी नहीं मिलरही है . आदि आदि 1 शिक्षा सचिव आर पी अग्रवाल ने तकनीकी शिक्षा के लिए गुणवत प्रासंगिंकता . पहुंच और पूंजी निवेश पर बल दिया 1 सम्मेलन का उद्घाटन भाषण अखिल भारतीय तकनीकी परिषद के अध्यक्ष््ा प्रो आर ए यादव ने किया

अरविंद . संजीव प्रेम .1948वार्ता

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.