चुनाव हिमाचल निर्दलीय दो शिमला

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi
वर्ष 1972 के चुनावों में एक बार फ्िर सात सीटों पर विजय हासिलकर निर्दलीयों ने 28.27 प्रतिशत मत हासिल किये जबकि 68 सदस्यीय सदन में विपक्षी दलों का कुल प्रतिनिधित्व केवल 8 सदस्यों का था 1 वर्ष 1977के चुनावों में जनता पार्टी ने 68 में से 53 सीटों पर जीत हासिल करप्रंचड बहुमत हासिल किया था1 उस समय कुल 194 निर्दलीय चुनाव मैदान में थे जिनमें से छह ने जीत दर्ज की थी

निर्दलीय विधायकों की महत्ता पहली बार 1982 में मालूम हुयीजब भाजपा और कांग्रेस दोनों ही बहुमत हासिल करने मेंनाकाम रही

दोनोंका क्रमश: 29 और 31 सीटे मिली जबकि निर्दलीयों की संख्या छहथी1 छह निर्दलीयों में से पांच कांग्रेस के थे जिन्हें पार्टी में दोबारा स्थानदेकर कांग्रेस के सरकार गठन का रास्ता साफ् हुआ

हालांकि वर्ष 1985 के मध्यावधि विधानसभा चुनावों में निर्दलीयों का प्रदर्शन निराशाजनक रहा और उन्होने केवल दो सीटों के साथ 8.27प्रतिशत मत बटोरे 1 वर्ष 1990 में तो वे बिल्कुल हाशिये पर पहुंच गए

उस समय चुनाव मैदान में खडे 187 निर्दलीयों में से केवल एक बागीकांग्रेस नेता ही जीत सका

वर्ष 1993 में स्थिति में थोडा बदलाव हुआ और सात बागीकांग्रेसी नेता निर्दलीय विधायक चुने गए 1 उन्हें 9.2 प्रतिशत मत मिले

नवानी . शिव प्रेम .162

जारी वार्ता

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.