अर्थ. बांस संवर्धन उ.प्र. दो अंतिम लखनऊ..

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

न उ.प्र. दो अंतिम लखनऊ.. जनसहभागिता सुनिश्चित करने के उद्देश्य से शु की गई इस योजना के प्रबंधन एवं देखरेख के लिए राज्य स्तर पर मिशन निदेशक की तैनाती की गई है जिसकी अध्यक्षता में गैर वन क्षेत्रों के समन्वय के लिए राज्य बांस विकास समिति का गठन किया गया है 1 फिलहाल यह योजना प्रदेश के मुजफ्फरनगर ् बलिया ् सोनभद्र ्सीतापुर ् बरेली ् रामपुर ् पीलीभीत ् शाहजहांपुर ् वाराणसी ् इलाहाबाद ्मिर्जापुर ् आेबरा ् रेनूकूट ् ललितपुर ् महोबा ् चित्रकूट ् बाराबंकी ्सहारनपुर और जौनपुर प्रभागों के लिए प्रस्तावित है

नेशनल बैंंबू मिशन ने उत्तर प्रदेश में इस योजना के लिए चालू वर्षमें चार करोड दस लाख पये की धनराशि स्वीकृत की है जिसके सापेक्षगत नवंबर माह में एक करोड तीस लाख पये जारी किए जा चुकेहैं1 इस धनराशि से मिर्जापुर ् ललितपुर और पीलीभीत में बांस की एकएक नर्सरी स्थापित की जा रही है

सूत्रों के मुताबिक इसके अलावा मिर्जापुर ् सोनभद्र ् आेबरा ्रेनूकूट ् ललितपुर ् महोबा तथा चित्रकूट वन प्रभागों में संयुक्त वनप्रबंध समितियों के माध्यम से एक हजार हेक्टेयर वन क्षेत्र में बांस रोपणके लिए अगि्रम मृदा कार्य किया जा रहा है1 साथ ही प्रदेश के मिर्जापुर ्सोनभद्र ् आेबरा ् ललितपुर ् महोबा ् चित्रकूट तथा इलाहाबाद क्षेत्रों मेंपांच सौ हेक्टेयर क्षेत्र में बांस संवर्धन के कार्य किए जा रहे हैं

रंजीत.पुनीत लखमी2007वार्ता.

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.