तीसरा विकल्प बनाने की तैयारियों में जुटी माकपा

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

श्रीगंगानगर 14 दिसम्बर .वार्ता. माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी .माकपा. ने अगले आम चुनाव से पहले देश में तीसरा मोर्चा बनाने की तैयारियां शुरू कर दी है

माकपा के महासचिव प्रकाश करात ने आज यहां पत्रकारों को यह जानकारी देते हुये इसे अगले चुनावों से जोडने से इनकार कर दिया

श्री करात ने कहा कि केन्द्र में कांग्रेस नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन .संप्रग. की नीतियों के कारण कृष िसंकट का हल नहीं हो पाया है और मंहगाई एवं बेरोजगारी में बढोतरी के कारण इस गठबंधन का जनसमर्थन घटा है वहीं भाजपा की अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांति्रक गठबंधन.राजग. की लोप्रियता में भी गिरावट आई है1 उन्होंने कहा कि इन परिस्थितियों में वामपंथी पार्टियों ने तीसरे विकल्प की जरूरत महसूस करते हुये इस दिशा में काम शुरू कर दिया है और साा विचारों एवं सम वाली पार्टियों के साथ बातचीत की जा रही है

श्री करात ने इस कवायद को आगामी चुनाव से जोडने से इनकारकिया और कहा कि यह प्रक्रिया पूरी होने के बाद कब तक तीसरा विकल्पमूर्त रूप लेगा इसके बारे में अभी कुछ कहना भी जल्दबाजी हो सकता है

उन्होंने कहा कि तीसरे विकल्प में भाजपा और कांग्रेस से समान दूरीबनाये रखी जायेगी

देश में मध्यावधि चुनाव की संभावना के सवाल पर माकपामहासचिव ने कहा कि परमाणु समौते के मसले पर सरकार औरवामपंथी एवं अन्य पार्टियों की समन्वय समिति में बनी सहमति के बादइसके कोई आसार नहीं है1 उन्होंने बताया कि हमने सरकार को कहा था कि वह समौते की दिशा में अब तक हुये काम के बाद आगे न बढे और सरकार ने भरोसा दिलाया है कि अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी .आईएईए. में होने वाली बातचीत के बाद समौते के मसविदे पर समन्वय समिति में चर्चा की जायेगी और उसके बाद ही निर्णय लिया जायेगा1 श्री करात यहां माकपा के राज्य प्रतिनिधि सम्मेलन के सिलसिले में पहुंचे थे1 बाद में यहां हुई आमसभा में उन्होंने आरोप लगाया किपरमाणु समौते के विरोध में भाजपा दोहरा रवैया अपना रही है1 उन्होंनेकहा कि इस करार के लिये भाजपा की अगुवाई वाली पिछली सरकार नेही कार्यवाही शुरू की थी अब वह पार्टी एक तरफ करार का विरोध करतीहै वहीं अमरीका के साथ रणनीतिक सहयोग की बातें भी करती है1 उन्होंने राजस्थान में माकपा को मजबूत बनाने का कार्यकर्ताओं सेआह्वान किया और कहा कि पिछले चार सालों के दौरान माकपा ने सरकार के विरोध में सबसे ज्यादा जन आंदोलन किये है यही वजह है कि यहांअगले चुनाव में भी तीसरा विकल्प तैयार करने में माकपा की भूमिकासबसे महत्वपूर्ण रहेगी

सं देवेन्द्र जगबीर1910वार्ता

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.