छठीबार राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बने मुगावे.हिंसा रहित चुनाव की अपील

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi
हरारे 14 दिसंबर.वार्ता. जिम्बाबवे के राष्ट्रपति पद के लिये लगातार छठी बार चुनाव लड रहे राबर्ट मुगावे ने आज अपने समर्थकों से अगले साल अप्रैल में हो रहे चुनाव के दौरान हिंसा नहीं करने की अपील की है राष्ट्रपति मुगावे ने आज यहां अपनी पार्टी जिम्बाबवे अफ्रीकन नेशनल यूनियन.पैट्रिकयाटिक फ्रंट./जानूपीएफ/ की कांग्रेस को संबोधित करते हुये अपनी पार्टी से राष्ट्रपति एवं संसदीय चुनाव के दौरान संगठित रहने की अपील की

उन्होंेने पार्टी एवं अपने समर्थकों से यह अपील पार्टी द्वारा लगातार छठी बार राष्ट्रपति पद के लिये चुनाव लडने की मंजूरी दिये जाने के बाद की 1 कांग्रेस में श्री मुगावे की उम्मीदवारी को लेकर न तो कोई बहस हुयी और न ही कोई दूसरा उम्मीदवार था 1पार्टी के विभिन्न गुटों के प्रतिनिधि मंच पर आते और 83 वर्षीय मुगावे का गुणमान करने गये 1 और बाद सत्ताधारी .जानूपीएफ. के राष्ट्रीय अध्यक्ष जान एनकोमो ने श्री मुगावे को अगले साल होने वाले राष्ट्रपति चुनावों के लिये पार्टी का उम्मीदवार बनाये जाने की घोषणा की

रोडेशिया को बि्रटेन द्वारा स्तंत्र किये जाने के बाद स्वतंत्र जिम्बाबवे मेंं 1980 से देश पर शासन कर रहे मुगावे ने 2004 में सकेत दिया था कि वह वर्तमान कार्यकाल के अंत में पद छोड देगें लेकिन पिछले दिनोंं किसान विरोधी सरकार की नीतियों और आर्थिक मुश्किलों के कारण उनके खिलाफ विरोध बढता गया है

पार्टी कांग्रेस को संबोधित करते हुये मुगावे ने एक बार फिर पश्चिमी देशों को निशाना बनाया और कहा कि वे जिम्बाबवे के घरेलू मामलें में हस्तक्षेप न करें उन पर अक्सर अपने विरोधयों के खिलाफ हिंसा का आरोप लगाया जाता है

पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुये मुगावे ने चुनाव प्रचार के दौरान हिंसा न करने को कहा उनका यह बयान दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति थाबो मबेकी की मध्यस्थता प्रयासों के बीच आया है वे जानू पीएफ और मुख्यविपक्षी आंदोलन के बीच मध्यस्थता कर रहे है जिसके कई नेताओं की इस वर्ष सुरक्षाबलों ने पिटाई की है

विनोद नीलिमा लखमी152

वार्ता

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.