प्रांतीय. जैविक गांव दो अंतिम समस्तीपुर..

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi
गांव दो अंतिम समस्तीपुर.. कृष िवैज्ञानिक ने बताया कि जिले के बिरौली. भगवान देसुआ.सोमनाहा. बैकुंठपुर ..बरहंडा. कोठिया एंव पचरूखी गांव में कृषकों नेआलू और गेहूँ के बीज का उत्पादन कर एक रिकार्ड बनाया है1 उन्होंनेबताया कि स्वयं बीज तैयार करने से किसानों को आलू में पंद्रह से बीसहजार रूपये और गूेहं में पांच से दस हजार रूपये प्रति हेक्टेयर कीआमदनी हो रही है

श्री सोहाने ने बताया कि केन्द्र की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन:संप्रग: सरकार द्वारा पूवोत्तर राज्य सिक्किम को ..जैविक राज्य.. बनायाजा रहा है और इसके लिए समस्तीपुर से केंचुआ का प्रजनन कर वहांनिर्यात किया जा रहा है1 उन्होंने बताया कि राज्य के लगभग साढे तीनहजार किसान इस समय केंचुआ प्रजनन कार्य से जुडे हुये है और इससेजहां एक आेर किसानों की आर्थिक स्थिति सुदृढ हो रही है वहीं दूसरीतरफ इससे पर्यावरण को फायदा पहुंच रहा है

कृष िवैज्ञानिक ने बताया कि इस समय पूरे समस्तीपुर जिले में720 वर्मी कम्पोस्ट केन्द्र चल रहे हैं और इससे होने वाले फायदे कोदेखते हुए इसमें और अधिक वृद्धि की संभावना है1 उन्होंने कहा किजैविक खाद से किसानों को आर्थिक फायदा होने के साथ..साथरासायनिक खाद से खेतों पर पडने वाले दुष्प्रभाव को भी रोकने में मददमिल रही हैऔर इससे खेतों की उत्पादन क्षमता में भी बढोत्तरी हो रही है

सं.शिव नंद1548 वार्ता

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.