आम चुनाव जनमत संग्रह की तरह: नवाज़

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

Nawaz Sharifइस्लामाबाद 12 दिसम्बर: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा है कि मुल्क की अवाम को आगामी आम चुनाव को जनमत संग्रह की तरह लेना चाहिये जो राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ के भविष्य का फैसला करेंगे.

पाकिस्तानी अखबार डेली टाइम्स में आज प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार श्री शरीफ ने फैसलाबाद में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुये कहा कि मुल्क में श्री मुशर्रफ का शासन गैर कानूनी है, इसलिये सरकारी अधिकारी उनके फैसलों को नहीं मानें. पूर्व प्रधानमंत्री ने पाकिस्तानी राष्ट्रपति पर हमले तेज करते हुये कहा कि अब चुनाव के बाद सांसद तय करेंगे कि वह श्री मुशर्रफ के शासन का समर्थन करते हैं या नहीं.

अंतरिम संवैधानिक आदेश (पीसीओ) के तहत शपथ नहीं लेने वाले अपदस्थ जस्टिस इफ्तिखार मोहम्मद चौधरी का समर्थन करते हुये उन्होंने कहा कि सरकार बनने के बाद उन्हें पुन: मुख्य न्यायाधीश बनाया जायेगा.

उन्होंने कहा- मैंने अपने उसूलों से कोई समझौता नहीं किया इसलिये मेरा नामांकन पत्र खारिज हो गया. मैं प्रधानमंत्री नहीं बनना चाहता हूं. मेरी प्राथमिकता एक सुरक्षित मुल्क का निर्माण करना है.

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.