आडवाणी के नेतृत्व में अगला चुनाव

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi


Lal-Krishna-Advaniनई दिल्ली, 11 दिसम्बरः भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मध्यावधि चुनाव की अटकलों के बीच लोकसभा में विपक्ष के नेता लालकृष्ण आडवाणी के नेतृत्व में अगला लोकसभा चुनाव लड़ने की आज घोषणा की और एक तरह से उन्हे प्रधानमंत्री पद का दावेदार घोषति कर दिया है.

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा राजनीति में सक्रिय भूमिका निभाने में असमर्थतता जताये जाने और उनके सुझाव पर भाजपा केन्द्रीय संसदीय बोर्ड नेआडवाणी के नेतृत्व में अगला लोकसभा चुनाव लड़ने की घोषणा की.

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में यहां पार्टी मुख्यालय में शाम को हुई बैठक में सर्वसम्मति से यह फैसला किया गया. बैठक के बादसिंह ने संवाददाता सम्मेलन में इस फैसले की औपचारिक घोषणा करते हुए कहा कि मैं वाजपेयी से मिला था.

उन्होने कहा कि स्वास्थ्य कारणों से उनके लिये पार्टी में सक्रिय भूमिका निभाना कठिन लगता है अत: आडवाणी से कहें कि वह लोकसभा चुनाव में पार्टी का नेतृत्व संभाल लें. बोर्ड ने उनकी सलाह को सर्वसम्मति से मंजूर कर लिया है.

वहीं कांग्रेस ने लालकृष्ण आडवाणी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाने के भारतीय जनता पार्टी के फैसले को बौखलाहट में उठाया हुआ कदम बताया और कहा कि इससे गुजरात के लोग गुमराह होने वाले नहीं हैं. कांग्रेस प्रवक्ता शकील अहमद नेभाजपा के इस फैसले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि गुजरात चुनाव में अपनी हार निश्चित जानकर भाजपा बौखला गई है और इसी बौखलाहट में यह फैसला लिया गया है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का पद खाली नहीं है और डॉक्टर मनमोहन सिंह मजबूती से उस पद पर काबिज हैं. उन्होंने कहा कि अगले चुनाव में भी कांग्रेस संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन के अन्य दलों के साथ मिलकर फिर सत्ता में आएगी.

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.