• search
keyboard_backspace

पुर्नजन्म पर लिखी गईं ये 8 किताबें दुनियाभर में मशहूर, बदल देंगी जिंदगी का नजरिया

नई दिल्ली। इस दुनिया में बहुत सी ऐसी बातें हैं, जो आज भी रहस्यमयी बनी हुई हैं। इन्हीं में शामिल हैं पुनर्जन्म और आफ्टरलाइफ। इस तरह के विषयों पर कुछ लोग विश्वास करते हैं तो कुछ नहीं करते। लेकिन इन दोनों ही विषयों पर दुनियाभर में काफी प्रगति हुई है। पश्चिमी देशों में आफ्टरलाइफ और पुनर्जन्म के बारे में जानने के लिए कई तरह की थेरेपी का इस्तेमाल हो रहा है। ऐसा दावा किया जाता है कि इस तरह की थेरेपी से ना केवल शारीरिक बल्कि मानसिक बीमारियों को भी ठीक किया जा रहा है।

books based on reincarnation, reincarnation, afterlife, books, books on reincarnation, books on past life, famous past life books, reincarnation stories, meaning of reincarnation, past life astrology, spirit world, spirituality, पुनर्जनम, किताबें, पुनर्जनम पर लिखीं मशहूर किताबें, पुनर्जनम पर लिखी गई किताबें, किताबें

अब भारत में भी इन थेरेपीज का चलन बढ़ रहा है। इन्हीं विषयों पर कुछ किताबें भी लिखी गई हैं, जिनमें किए गए दावे किसी को भी हैरान कर सकते हैं। इन दावों पर विश्वास करना जितना मुश्किल है, उतना ही मुश्किल इन दावों को नकारना भी है। तो चलिए आज हम ऐसी ही 8 किताबों के बारे में बात करते हैं। जिनमें बताया गया है कि मरने के बाद किसी व्यक्ति की आत्मा कहां जाती है और उसकी आगे की यात्रा जिसे हम आफ्टरलाइफ कहते हैं, वो कैसी होती है। इन किताबों में पुर्नजन्म की कहानियों के बारे में भी बताया गया है।

मैनी लीव्स मैनी मास्टर्स- डॉक्टर ब्रेन वीस

मैनी लीव्स मैनी मास्टर्स- डॉक्टर ब्रेन वीस

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सबसे अधिक बिकने वाली किताबों में शामिल 'मैनी लीव्स मैनी मास्टर्स' के लेखक डॉक्टर ब्रेन वीस हैं। जो साइकेट्रिस्ट और हिप्नोथेरेपिस्ट हैं। इस किताब में उन्होंने अपनी एक मरीज की सच्ची कहानी के बारे में लिखा है। वह किसी भी परेशानी की जड़ तक जाने के लिए मरीज को पिछले जन्म की कहानियों तक ले जाते हैं। ये हिपनोसिस के जरिए संभव हो पाता है। इस लेवल तक पहुंचने के बाद अवचेतन मन में छिपी बातों को जाना जाता है। ब्रेन वीस अपने मरीज से सवाल पूछते हैं। जब मरीज इन सवालों के जवाब देती है तो वीस हैरान रह जाते हैं। क्योंकि इन समस्याओं के तार पिछले जन्म से भी जुड़े रहते हैं।

द लॉ ऑफ द स्पिरिट वर्ल्ड- खोरशेद भावनगरी

द लॉ ऑफ द स्पिरिट वर्ल्ड- खोरशेद भावनगरी

इस किताब से हम उस दुनिया का संदेश जान सकते हैं जहां किसी माध्यम के जरिए संवाद कर पाना असंभव है। इस किताब की लेखिका एक मां थीं, जिन्होंने कम उम्र में ही एक दुर्घटना में अपने बेटों को खो दिया और इससे वह काफी दुखी थीं। अपने बेटों से बात करने के लिए उन्होंने उस पार संपर्क करने का तरीका सीखा और इसमें सफल रहीं। उनके बेटों ने मौत के बाद की लाइफ के बारे में बताया और कहा कि वह इसकी जानकारी बाकी लोगों को भी दें। ताकि वो जिंदगी को बेहतर तरीके से जीना सीखें। फिर खोरशेद ने किताबों के जरिए अपने बेटों द्वारा कही बातों को दुनिया तक पहुंचाया। किताब के इस एडीशन में उन जरूरी संदेशों के बारे में बताया गया है, जो खोरशेद को बताए गए हैं।

जर्नी ऑफ सोल्स: केस स्टडीज ऑफ लाइफ बिटविन लीव्स- माइकल न्यूटन

जर्नी ऑफ सोल्स: केस स्टडीज ऑफ लाइफ बिटविन लीव्स- माइकल न्यूटन

माइकल न्यूटन भी हिप्नोथेरेपिस्ट थे। जब उनके मरीजों ने इलाज के दौरान पिछले जन्म के बारे में बताया तो वह भी इसपर विश्वास करने लगे। हालांकि शुरू में उन्हें संदेह था लेकिन वे इस बात से इनकार नहीं कर पाए कि उन्होंने (मरीजों) जो कुछ भी बताया था, वह ऐतिहासिक रूप से और कहानियों के रूप में एकदम ठीक था। माइकल न्यूटन ने फैसला लिया कि वह पिछले जन्म की कहानी से परे उस दुनिया के बारे में जानेंगे, जहां कोई इंसान मरने के बाद और अगला जन्म लेने से पहले जाता है। इस किताब में उसी दुनिया के बारे में बताया गया है, जिसे स्पिरिट वर्ल्ड कहा जाता है।

सेथ मैटेरियल- जेन रॉबर्ट्स

सेथ मैटेरियल- जेन रॉबर्ट्स

इस किताब की लेखिका डोरथी जेन रॉबर्ट्स थीं। जिनका दावा था कि वह आत्मा को बुला सकती हैं। इसमें स्पिरिट या एनर्जी को सेथ कहा गया है और इस किताब में आत्मा द्वारा कही गई बातों के बारे में बताया गया है। इसमें शुरुआती चैप्टर्स में उन्होंने उइजा बोर्ड का इस्तेमाल किया है। बता दें ऐसा कहा जाता है कि इस तरह के बोर्ड से आत्मा को बुलाया जाता है। सेथ ने जो कुछ भी कहा है, वह पूर्वी फिलॉसफी से काफी मिलता जुलता माना जाता है।

वेयर रिइंकार्नेशन एंड बायोलॉजी इंटरसेक्ट- लेन स्टीवेंसन

वेयर रिइंकार्नेशन एंड बायोलॉजी इंटरसेक्ट- लेन स्टीवेंसन

इस किताब में पुनर्जन्म के बारे में बताया गया है। लेखक ने इसमें कई केसिस का जिक्र किया है। लेन स्टीवेंसन का मानना था कि जिन लोगों को पिछले जन्म की बातें याद रहती हैं, ऐसा संभव है कि उनके शरीर पर उस जीवन के कुछ सबूत भी हो सकते हैं। उदाहरण के लिए एक विकृत हाथ वाला बच्चा पिछले जन्म में ऐसा व्यक्ति था, जिसका हाथ काट दिया गया था। इस किताब में बताया गया है कि पिछला जन्म किसी को शारीरिक तौर पर किस तरह से प्रभावित करता है।

साउंड ऑफ साइलेंस: अ ब्रिज एक्रॉस टू वर्ल्डस- नैन उम्रीगर

साउंड ऑफ साइलेंस: अ ब्रिज एक्रॉस टू वर्ल्डस- नैन उम्रीगर

इस किताब में एक मां की हृदयविदारक और खूबसूरत सी कहानी है। जो अपने इकलौते बेटे को एक दुर्घटना में खो देती है और उसकी मौत के बाद उससे बात करती है। किताब के दो सीक्वल हैं, जो आप आसानी से खरीद सकते हैं। ये किताब काफी मशहूर है। इस किताब में उन्होंने अपने बेटे की मौत के बाद की यात्रा के बारे में बताया है।

आवर अनटाइमली रिएलिटी, लाइफ, द यूनिवर्स एंड डेस्टिनी ऑफ मैनकाइंड- अड्रैन पी. कूपर

आवर अनटाइमली रिएलिटी, लाइफ, द यूनिवर्स एंड डेस्टिनी ऑफ मैनकाइंड- अड्रैन पी. कूपर

इस किताब में कई फिलॉस्फीज के बारे में बात की गई है। इस किताब में बहुत सी ऐसी बातें शामिल हैं, जो उन लोगों के लिए काफी रोमांचक है, जो पारंपरिक पश्चिमी फिलॉस्फी से परिचित हैं। सबसे अधिक बिकने वाली किताबों में इसका नाम भी शामिल है।

कन्वर्सेशंस विद गॉड- निएल डोनाल्ड वाल्श

कन्वर्सेशंस विद गॉड- निएल डोनाल्ड वाल्श

भगवान से हुई बातचीत को लेकर लेखक निएल डोनाल्ड वाल्श ने कई किताबें लिखी हैं, ये किताब का पहला एडिशन है। लेखक ये जानना चाहता था कि उसकी जिंदगी इस तरह से क्यों चल रही है। एक दिन लेखक ने महसूस किया कि उसे इसका उत्तर मिला है और उसने उन उत्तरों को लिखना शुरू कर दिया। जिसके बाद भगवान से ये बातचीत शुरू होती है। निएल डोनाल्ड वाल्श ने इसके बाद भी कई किताबें लिखी हैं। जिसमें दावा किया गया है कि भगवान ने बताया है कि ब्राह्मांड कैसे काम करता है। यहां तक ​​कि बच्चों और किशोरों के लिए भी संस्करण उपलब्ध हैं, जो उनके आयु वर्ग के लिए समझने में सहायक हैं।

For Daily Alerts
Related News
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X