• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Fact Check:क्या सिखों को भारतीय सेना से हटाने को लेकर हुई कैबिनेट की बैठक? जानें सच

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 08 जनवरी: सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा जिसमें दावा किया जा रहा है कि सुरक्षा को लेकर एक कैबिनेट कमेटी की बैठक में सिखों को भारतीय सेना से हटाने पर चर्चा हुई। इस वीडियो में ये दिखाने की कोशिश की जा रही है कि यह बैठक सिख समुदाय के खिलाफ आयोजित की गई थी। जानकारी के मुताबिक सोशल मीडिया पर जांच के दौरान ये पाया गया कि कुछ ट्विटर हैंडल द्वारा एक फेक वीडियो को शेयर किया जा रहा है। पीआईबी ने इस पर सफाई दी है।

    Fact Check: क्या Sikhs को Indian Army से हटाने को लेकर हुई Cabinet बैठक ? | वनइंडिया हिंदी
    viral video claim that in Cabinet Committee meeting on Security,removal of Sikhs from Indian Army

    सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर कई अकाउंट्स इस वीडियो को शेयर कर रहे हैं। इन अकाउंट से अफवाहें फैलाई जा रही हैं कि भारतीय सेना से सिख रेजिमेंट को हटाया जा रहा है। इसके साथ किसी ने क्लब हाउस के ऑडियो को जोड़ दिया है जिसमें एक शख्स भारतीय सेना से सिखों को हटाने की बात कर रहा है। वीडियो में प्रधानमंत्री मोदी, ग्रहमंत्री अमित शाह, विदेश मंत्री एस जयशंकर और एनएसए अजीत डोभाल समेत आला अधिकारी नजर आ रहे हैं।

    वीडियो में एक अधिकारी को बोलते हुए सुना जा सकता है कि हर एक पंजाबी को निकाल दो। एक बार ये पंजाबी निकल गए तो चीजें बेहतर हो जाएंगी। आर्मी नेशनल डिफेंस से सारे जनरल, सारे सैनिक, टॉप लेवल से बॉटम तक हर एक पंजाबी को निकल दो। अब इस दावे को लेकर पीआईबी ने लोगों को आगाह किया है। पीआईबी फैक्ट चेक ने ट्वीट किया, 'वायरल वीडियो का जिक्र करते हुए एक ट्वीट में दावा किया गया कि सुरक्षा पर मंत्रिमंडल समिति की बैठक में सिखों को भारतीय सेना से हटाने का आह्वान किया गया था। दावा फर्जी है। ऐसी कोई चर्चा/बैठक नहीं हुई है।

    दिल्ली पुलिस ने कैबिनेट की एक समिति का एक विकृत या छेड़छाड़ किया गया वीडियो सामने आने के बाद मामला दर्ज किया है। अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि सोशल मीडिया की निगरानी के दौरान, यह देखा गया कि कुछ ट्विटर हैंडलों के माध्यम से ट्विटर पर एक फर्जी/ छेड़छाड़ किया हुआ वीडियो साझा किया गया। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि दरअसल, वीडियो मंत्रिमंडलीय समिति की बैठक का था, जो प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत के निधन के बाद नौ दिसंबर, 2021 को हुई थी।

    निषाद पार्टी यूपी में 24 सीटों पर लड़ेगी चुनाव, संजय निषाद ने भाजपा के साथ सीट तय होने का किया दावानिषाद पार्टी यूपी में 24 सीटों पर लड़ेगी चुनाव, संजय निषाद ने भाजपा के साथ सीट तय होने का किया दावा

    वीडियो विभिन्न समाचार पोर्टलों और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर आसानी से उपलब्ध था। पुलिस उपायुक्त (आईएफएसओ) के पी एस मल्होत्रा ने कहा, 'दुश्मनी को बढ़ावा देने और सांप्रदायिक वैमनस्य को भड़काने के खराब इरादे से वीडियो के साथ छेड़छाड़ की गई और एक नया वॉइस ओवर लगाया गया जिसमें कथित व्यक्तियों ने यह दिखाने की कोशिश की कि बैठक सिख समुदाय के खिलाफ थी।'

    Fact Check

    दावा

    कैबिनेट कमेटी की बैठक में सिखों को भारतीय सेना से हटाने बात हुई।

    नतीजा

    पीआईबी फैक्ट चेक ने ट्वीट किया, 'वायरल वीडियो का जिक्र करते हुए एक ट्वीट में दावा किया गया कि सुरक्षा पर मंत्रिमंडल समिति की बैठक में सिखों को भारतीय सेना से हटाने का आह्वान किया गया था। दावा फर्जी है

    Rating

    False
    फैक्ट चेक करने के लिए हमें factcheck@one.in पर मेल करें

    Comments
    English summary
    viral video claim that in Cabinet Committee meeting on Security,removal of Sikhs from Indian Army
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X