• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Fact check: क्या सरकार चौथे चरण के लिए कोरोना रिलीफ फंड जारी करेगी? जानें वायरल लिंक का सच

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, जून 03: कोरोना महामारी के बीच सोशल मीडिया पर आए दिन कोई ना कोई फर्जी मैसेज वायरल हो रहा है। इन दिनों व्हाट्सऐप पर भी एक ऐसा ही मैसेज वायरल हो रहा है। इस वायरल मैसेज में दावा किया गया है कि, कोरोना महामारी को देखते हुए सरकार बहुत जल्द अगला रिलीफ फंड जारी करने वाली है। जिन्हें इस फंड का लाभ लेना है, उन्हें इसके लिए एप्लाई करना होगा। एप्लाई करने के लिए मैसेज में एक लिंक दिया गया है।

    Fact check: क्या सरकार चौथे चरण के लिए Corona Relief Fund जारी करेगी ? | वनइंडिया हिंदी

    Fact check WhatsApp forward claiming that Central Government is providing Phase 4 Covid19 Relief Fund

    व्हाट्सऐप पर वायरल हो रहे मैसेज में रिलीफ फंड का नाम गवर्मेंट सपोर्ट फंड फॉर कोविड-19 दिया गया है। मैसेज में रिलीफ फंड पाने के लिए एप्लाई करने को कहा जा रहा है। मैसेज में लिखा गया है कि गवर्मेंट फेज 4 कोविड-19 रिलीफ फंड सरकार की तरफ से दिया जा रहा है, इसके लिए तुरंत एप्लाई करें। एप्लाई करने के लिए कुछ स्टेप से गुजरना होगा। इस अवसर को बेकार ना जाने दें। यहां एप्लाई करें। इसी के साथ एक लिंक दिया गया है।

    सरकार की संस्था प्रेस इनफॉरमेशन ब्यूरो (पीआईवी) ने इस खबर का फैक्ट चैक किया है। पीआईबी ने अपने आधिकारिक टि्वटर हैंडल पर लिखा है, व्हाट्सऐप पर फॉरवर्ड किया जा रहा है मैसेज कि केंद्र सरकार फेज-4 कोविड रिलीफ फंड जारी करने वाली है, यह बात पूरी तरह से फर्जी है। पीआईबी ने ट्वीट में लिखा है, इस तरह के फॉरवर्डेड मैसेज पर बिल्कुल भरोसा न करें। इस तरह की फ्रॉड करने वाली वेबसाइट पर अपनी पर्सनल जानकारी न दें। पीआईबी ने लोगों से लिंक पर क्लिक ना करने की सलाह दी है।

    FACT CHECK: कोलकाता के इस्लामिया अस्पताल में केवल मुस्लिमों का ही इलाज होगा, जानें इस दावे की सच्चाईFACT CHECK: कोलकाता के इस्लामिया अस्पताल में केवल मुस्लिमों का ही इलाज होगा, जानें इस दावे की सच्चाई

    फर्जी खबर यानी फेक न्यूज से निपटने के लिए पत्र सूचना कार्यालय (पीआईबी) ने केंद्र सरकार के मंत्रालयों, विभागों और योजनाओं के बारे में खबरों का सत्यापन करने के लिए एक 'तथ्य जांच इकाई' गठित की है जिसे पीआईबी फैक्ट चेक टीम कहा जाता है। पीआईबी फैक्ट चेक टीम द्वारा आप भी किसी भी संदेश की सत्यता की जांच करा सकते हैं। इसके तहत मीडिया में सरकार और सरकारी योजनाओं से जुड़ी खबरों की सच्चाई का पता लगाया जाता है। अगर आपके पास भी कोई डाउटफुल खबर है तो आप उसे factcheck.pib.gov.in या फिर वॉट्सऐप नंबर +918799711259 या ईमेलः pibfactcheck@gmail.com पर भेज सकते हैं। इसके बारे में ज्यादा जानकारी पीआईबी की वेबसाइट pib.gov.in पर भी उपलब्ध है।

    Fact Check

    दावा

    कोरोना महामारी को देखते हुए सरकार बहुत जल्द अगला रिलीफ फंड जारी करने वाली है।

    नतीजा

    पीआईबी ने ट्वीट में लिखा है, इस तरह के फॉरवर्डेड मैसेज पर बिल्कुल भरोसा न करें।

    Rating

    False
    फैक्ट चेक करने के लिए हमें factcheck@one.in पर मेल करें

    English summary
    Fact check WhatsApp forward claiming that Central Government is providing Phase 4 Covid19 Relief Fund
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X