• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

आजादी के 74 साल बाद मणिपुर को मिली पहली ट्रेन? जानिए कितना सच है वायरल वीडियो में किया गया ये दावा

|
Google Oneindia News

मणिपुर। सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक पैसेंजर ट्रेन प्‍लेटफार्म पर प्रवेश करते दिख रही है। वीडियो में दावा किया जा रहा है कि आजादी के 74 साल बाद मणिपुर को पहली ट्रेन मिली है। मेजर सुरेंद्र पूनिया ने 4 जुलाई को ट्विटर और फेसबुक पर वीडियो को साझा किया। इस वीडियो का कैप्‍शन हिंदी में है। कैप्‍शन में लिखा गया है "आजादी के 74 साल बाद पहली ट्रेन मणिपुर पहुंची। धन्यवाद नरेंद्र मोदी जी।" जब इस वीडियो की सत्‍यता जांची गई तो पता चला कि मणिपुर में पहली ट्रेन 2016 में आई थी, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मणिपुर के जिरीबाम और असम के सिलचर के बीच एक यात्री ट्रेन को हरी झंडी दिखाई थी।

    Fact Check: Manipur में First Passenger Train का दावे में जानें कितना सच? | वनइंडिया हिंदी
    आजादी के 74 साल बाद मणिपुर को मिली पहली ट्रेन? जानिए कितना सच है वायरल वीडियो में किया गया ये दावा

    यह वीडियो 2 जुलाई, 2021 का है, जब मणिपुर के सिलचर से वैंगाइचुनपाओ तक एक यात्री ट्रेन का 11 किलोमीटर लंबा ट्रायल रन सफलतापूर्वक किया गया था। केंद्रीय पूर्वोत्तर विकास राज्य मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह और मणिपुर के मुख्यमंत्री बीरेन सिंह ने 3 जुलाई को वीडियो को "ऐतिहासिक क्षण" बताते हुए ट्वीट किया था। उन्‍होंने ट्वीट किया "मणिपुर #India के #RailMap पर अपनी शुरुआत करता है। तामेंगलोंग में सिलचर से वैंगाइचुनपाओ तक पहली यात्री ट्रेन का ट्रायल रन सफलतापूर्वक आयोजित किया गया। # ट्रांसफॉर्मिंग नॉर्थईस्ट

    आपको बता दें कि 1899 से, मणिपुर, त्रिपुरा, मिजोरम और दक्षिण असम में मीटर गेज रेलवे लाइनें थीं। साल 2014 में, पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे ने इन क्षेत्रों में 115 साल पुरानी मीटर गेज लाइन को ब्रॉड गेज लाइन में बदलने का काम संभाला। 2016 में, शिलांग में पीएम मोदी ने असम में मिजोरम, मणिपुर और कामाख्या के लिए तीन नई ट्रेनों को हरी झंडी दिखाई। मणिपुर के लिए, यह पहली ब्रॉड गेज यात्री ट्रेन थी जिसने जिरीबाम को सिलचर से जोड़ा। 27 मई 2016 को ऑल इंडिया रेडियो न्यूज ने इस बारे में ट्वीट किया था। इसलिए, यह स्पष्ट है कि मणिपुर में एक लोकल ट्रेन के साधारण ट्रायल रन को भ्रामक दावे के साथ प्रचारित किया गया है कि आजादी के बाद पूर्वोत्तर राज्य में पहुंचने वाली यह पहली यात्री ट्रेन थी।

    FACT CHECK: परीक्षा स्थगित न होने पर इस लड़की ने कर ली खुदकुशी? जानिए वायरल हो रहे इस दावे का सचFACT CHECK: परीक्षा स्थगित न होने पर इस लड़की ने कर ली खुदकुशी? जानिए वायरल हो रहे इस दावे का सच

    Fact Check

    दावा

    The first train reached Manipur 74 years after Independence.

    नतीजा

    Manipur had its first train in 2016 when PM Narendra Modi flagged off a passenger train between Jiribam in Manipur and Silchar in Assam. This video is from July 2, 2021, when an 11-km long trial run o

    Rating

    False
    फैक्ट चेक करने के लिए हमें factcheck@one.in पर मेल करें

    English summary
    Fact Check: This claim of Manipur’s first train since Independence is off the track
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X