• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Fact Check: क्या कपूर, लौंग और अजवाइन से ऑक्सीजन लेवल बढ़ता है? जानिए सच्चाई

|

नई दिल्ली, 19 अप्रैल: घातक कोरोना वायरस एक बार फिर अपना कहर बरपा रहा है। एक तरफ वैक्सीन लगाने का काम तेजी से किया जा रहा है, तो दूसरी तरफ वैक्सीनेशन के बाद भी कोरोना के केस रिकॉर्ड स्तर पर दर्ज हो रहे हैं। इन परिस्थितियों में सोशल मीडिया पर कोरोना मरीजों के हालात से लेकर अस्पताल की व्यवस्था तक की खबरें, वीडियो और तस्वीरें खूब तैरती दिखाई दे रही हैं। वहीं इंटरनेट में जहां इस घातक बीमारी से बचाव और उपचार की जानकारी देते है तो कुछ संकट के समय में फेक न्यूज फैलाने से बाज नहीं आ रहे हैं।

    Coronavirus India Update: Remdesivir की कालाबाजारी करते Gurugram से 3 गिरफ्तार | वनइंडिया हिंदी

    ncrease blood oxygen viral message

    लोग एक बार फिर कोरोना से दशहत में है। सब अपने-अपने स्तर पर इस वायरस से बचने का उपाय कर रहे हैं, इन सब के बीच कुछ लोग ऐसे भी होते हैं, जो इस भयानक बीमारी के बीच फेक न्यूज फैलाकर लोगों के स्वास्थ्य को और खतरे में डालने का काम कर रहे हैं। ऐसा ही एक पोस्ट इन दिनों इंटरनेट पर जमकर वायरल हो रहा है, जिसको बिना सोच समझे लोग भी धड़ाधड़ शेयर और उस पर अमल करने का काम भी कर रहे हैं। वायरल पोस्ट में बताया गया कि कैसे घरेलू नुस्खे के जरिए खून में ऑक्सीजन का लेवल बढ़ाया जा सकता है।

    वायरल पोस्ट में किया गया दावा

    वायरल पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि कपूर और अजवाइन की पोटली को सूंघने से ब्लड ऑक्सीजन लेवल बढ़ जाता है। वायरल पोस्ट के मुताबिक कपूर, लौंग, अजवाइन और कुछ बूंदे नीलगिरी के तेल की लेकर एक ​​पोटली बनाएं और इसे दिन भर सूंघते रहें। इससे ऑक्सीजन के स्तर को बढ़ाने में मदद मिलती है। इसकते साथ ही ये भी दावा किया गया है कि इस पोटली को लद्दाख में पर्यटकों को दी जाती है, जब ऑक्सीजन का स्तर कम होता है। यह एक घरेलू उपाय है।

    Fact check: कोविड-19 ड्यटी पर मारे गये स्वास्थ्य कर्मियों को दिये जाने वाले बीमा कवर को वापस नहीं ले रही सरकारFact check: कोविड-19 ड्यटी पर मारे गये स्वास्थ्य कर्मियों को दिये जाने वाले बीमा कवर को वापस नहीं ले रही सरकार

    जानिए क्या है पूरा सच

    सोशल मीडिया पर किया जा रहा ये दावा पूरी तरह से फर्जी और झूठा है। इस दावे के पीछे साइंस का कहना है कि इन चीजों का कोरोना वायरस से कोई लेना-देना नहीं है। और अगर गौर करें तो कोरोना में फेफड़ों और श्वसन तंत्र को नुकसान की वजह से खून में ऑक्सीजन का स्तर घटने लगता है। इस तरह के किसी भी दावे को खारिज कर दिया है। साथ में यह भी ध्यान में रखना चाहिए कि कपूर को तोड़ना खतरनाक है और कुछ केसों में जान को खतरा भी हो सकता है। इसके साथ ही यह सलाह दी जाती है कि किसी को COVID-19 का इलाज करने के लिए घरेलू उपचारों पर निर्भर नहीं होना चाहिए और इसके बजाय उसी के लिए चिकित्सा सहायता लेनी चाहिए।

    Fact Check

    दावा

    कपूर, अजवाइन और लौंग को सूंघने से ऑक्सीजन लेवल बढ़ने का एक पोस्ट वायरल हो रहा है।

    नतीजा

    दावा झूठा है।

    Rating

    False
    फैक्ट चेक करने के लिए हमें factcheck@one.in पर मेल करें

    English summary
    fact check inhaling camphor lavang ajwain and nilgiri oil increase blood oxygen viral message
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X