• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

FACT CHECK: परीक्षा स्थगित न होने पर इस लड़की ने कर ली खुदकुशी? जानिए वायरल हो रहे इस दावे का सच

|
Google Oneindia News

नई दिल्‍ली, 3 जुलाई। जानलेवा कोरोना वायरस के फैलते संक्रमण को देखते हुए देश भर के विश्वविद्यालय के छात्र भावनात्मक तनाव का हवाला देते हुए परीक्षा रद्द करने की मांग कर रहे हैं। इस बीच, "सुनीता" नाम की तेलंगाना की एक छात्रा का कथित डेथ नोट सोशल मीडिया पर वायरल रहा है। नोट के एक तरफ युवा लड़की की तस्‍वीरों का कोलाज है तो एक तरफ लड़की छत के पंखे से लटकता हुआ फोटो। डेथ नोट (सुसाइड नोट) 1 जुलाई का है। इस नोट के मुताबिक तेलंगाना में कोविड -19 संकट के बीच "ऑफलाइन बी-टेक परीक्षाओं को स्थगित न करने" के कारण सुनीता ने अपनी जान ले ली।

    Fact Check: क्या Exam स्थगित न होने पर इस छात्रा ने कर ली खुदकुशी ? | वनइंडिया हिंदी
    FACT CHECK: परीक्षा स्थगित न होने पर इस लड़की ने कर ली खुदकुशी? जानिए वायरल हो रहे इस दावे का सच

    इस फोटो को सबसे पहले ट्विटर यूजर नेहा चौधरी (@NehaCho78701538) ने अपने हैंडल से पोस्‍ट किया। यह पोस्ट यूट्यूब पर भी वायरल है। जब वायरल हो रही इस फोटो की सत्‍यता जांची गई तो पता चला कि पोस्ट में दिख रही लड़की का नाम संकीर्तना है और वो जिंदा है। संकीर्तना ने खुद इस बात की पुष्टि की कि ये पोस्ट फर्जी है। उन्‍होंने बताया कि वो बी-टेक की छात्रा नहीं है, बल्कि दिल्ली विश्वविद्यालय से बीकॉम (ऑनर्स) कर रही हैं। आपको बता दें कि तेलंगाना के जवाहरलाल नेहरू प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (JNTU) के कई छात्र 2 जुलाई से ऑफलाइन परीक्षा आयोजित करने के विश्वविद्यालय के फैसले का विरोध कर रहे थे।

    हालांकि तेलंगाना से बीटेक छात्र की किसी भी आत्महत्या के बारे में कोई रिपोर्ट नहीं मिली, क्योंकि परीक्षा स्थगित नहीं हुई थी। गूगल पर लड़की की तस्वीर की रिवर्स-सर्च की और 25 जनवरी, 2021 को प्रकाशित एक 'तेलंगाना टुडे' लेख में वही तस्वीर पाई। इस लेख के मुताबिक, लड़की तेलंगाना के करीमनगर जिले की रहने वाली 18 साल की के संकीर्तना है। लेख में कहा गया है कि संकीर्तना ने इंटरमीडिएट परीक्षा में 1000 में से 942 अंक हासिल किए। जाहिर है, वह ऑस्ट्रेलिया से अंडर ग्रेजुएशन करने की तैयारी कर रही थी।

    वायरल पोस्ट द्वारा किए गए दावों को खारिज करते हुए, संकीर्तना ने कहा, "मैं वर्तमान में दिल्ली विश्वविद्यालय से बी.कॉम (ऑनर्स) में अपना पहला वर्ष कर रहा हूं। जैसा कि उस पोस्ट में दावा किया गया है, मैं बी.टेक का छात्र नहीं हूं। साथ ही, मेरी तस्वीर के साथ साझा किया गया डेथ नोट मेरे द्वारा नहीं लिखा गया है। कोविड -19 स्थिति के कारण, मैं ऑस्ट्रेलिया के लिए कब जा पाती यह निश्चित नहीं है। इसलिए, मैंने दिल्ली विश्वविद्यालय में शामिल होने का फैसला किया। " उन्‍होंने कहा कि "मुझे इस फर्जी पोस्ट के बारे में तब पता चला जब एक दोस्त ने मेरे साथ ट्विटर हैंडल @ NehaCho78701538 से एक पोस्ट शेयर की। मैंने भी, पोस्ट को फर्जी बताते हुए हैंडल का जवाब दिया। लेकिन कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई। संकीर्तना के एक पारिवारिक मित्र गिरीश मिंटू ने भी इसी मामले पर उनका एक स्पष्टीकरण वीडियो ट्वीट किया है। इसलिए, यह स्पष्ट है कि वायरल दावा झूठा है और पोस्ट के साथ साझा की गई तस्वीर वाली लड़की भी बहुत जिंदा है।

    Fact Check

    दावा

    Fake

    नतीजा

    Fake

    Rating

    False
    फैक्ट चेक करने के लिए हमें factcheck@one.in पर मेल करें

    English summary
    Fact Check: DU student's photo falsely shared as Telangana girl who killed self over non-postponement of exams
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X