• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

गर्म पानी की भाप से नहीं मरता कोरोना का 'वायरस', सोशल मीडिया पर फैलाया जा रहा झूठ

|

नई दिल्ली। विश्व को अपनी चपेट में ले चुका कोरोना वायरस अब भारत में भी तेजी से अपने पैर पसार रहा है। जैसे-जैसे देश में कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं वैसे-वैसे सोशल मीडिया पर इसके इलाज के अजीबोगरीब नुस्खे वायरल हो रहे हैं। ऐसा ही एक दावा इन दिनों इंटरनेट पर खूब शेयर किया जा रहा है, इसमें कहा गया है कि अगर आप प्रतिदिन गर्म पानी की भाप सांस द्वारा अंदर लेते हैं तो कोरोना वायरस का संक्रमण पूरी तरह ठीक हो जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह दावा पूरी तरह झूठ है।

कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

Corona virus does not die due to hot water vapor fake news spread on social media

गौरतलब है कि दुनिया के वैज्ञानिक अभी कोरोना वयारस का वैक्सीन तलाशने में जुटे हुए हैं लेकिन अभी तक उन्हें इस क्षेत्र में कोई सफलता हाथ नहीं लगी है। भारत के वैज्ञानिक भी इस दिशा में दिन रात मेहनत कर रहे हैं ताकि जल्द से जल्द इस वायरस के प्रकोप को कम किया जा सके। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरस हो रहा है जिसमें कहा गया है कि एक चीनी विशेषज्ञ ने सभी को आश्वासन दिया है कि गर्म पानी के भाप को सांस से लेना कोरोन वायरस को 100 प्रतिशत मारता है। यहां तक ​​कि अगर वायरस नाक, गले या फेफड़ों में प्रवेश कर गया है, तो यह उपचार उसमें भी मदद करेगा। वायरल संदेश में दावा किया गया है कि कोरोना वायरस गर्म पानी की भाप को नहीं झेल सकता और मर जाता है। मैसेज को परिवार और दोस्तों में भी फॉर्वर्ड करने को कहा गया है।

सबसे पहली और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि कोरोनो वायरस से लड़ने के लिए अभी तक कोई टीका नहीं मिला है। दूसरा ये कि कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है जो यह साबित करता है कि गर्म पानी की भाप में रहने से कोरोनो वायरस की मृत्यु हो जाएगी। सोशल मीडिया पर ऐसे संदेश को फैलाने की बजाय आपको यह साझा करना चाहिए कि वर्तमान में सामाजिक दूरी, स्वच्छता और अपने हाथों को नियमित रूप से धोना कोरोनो वायरस से लड़ने के सबसे प्रभावी तरीका है।

12 अगस्‍त को रूस से आ रही है पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

Corona virus does not die due to hot water vapor

निजामुद्दीन की 'बंगले वाली मस्जिद' कैसे बनी कोरोना वायरस का हेडक्वार्टर ?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Corona virus does not die due to hot water vapor fake news spread on social media
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X